Top 21 Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

Share:

Top 21 Narendra Chanchal Bhajan Lyrics In Hindi | नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स


मंगल की सेवा सुन मेरी देवा

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा,
हाथ जोड़ तेरे द्वार खड़े,
पान सुपारी ध्वजा नारियल,
ले ज्वाला तेरी भेंट धरे,
सुन जगदम्बे कर ना विलम्बे,
संतन के भडांर भरे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

बुद्धि विधाता तू जग माता,
मेरा कारज सिद्ध करे,
चरण कमल का लिया सहारा,
शरण तुम्हारी आन पड़े |
जब जब भीड़ पड़ी भक्तन पर,
तब तब आय सहाय करे,
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

गुरु के वार सकल जग मोहयो,
तरूणी रूप अनूप धरे,
माता होकर होकर पुत्र खिलावे,
कही भार्या भोग करे,
शुक्र सुखदाई सदा सहाई,
संत खड़े जयकार करे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

ब्रह्मा विष्णु महेश फल लिये,
भेट देन तेरे द्वार खड़े,
अटल सिहांसन बैठी मेरी माता,
सिर सोने का छत्र फिरे,
वार शनिचर कुमकुम बरणी,
जब लुकड़ पर हुकुम करे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

खड्ग खप्पर त्रिशुल हाथ लिये,
रक्त बीज को भस्म करे,
शुम्भ निशुम्भ को क्षण में मारे,
महिषासुर को पकड दले,
आदित वारी आदि भवानी,
जन अपने को कष्ट हरे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

कुपित होयकर दानव मारे,
चण्डमुण्ड सब चूर करे,
जब तुम देखी दया रूप हो,
पल में सकंट दूर करे,
सौम्य स्वभाव धरयो मेरी माता,
जन की अर्ज कबूल करे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

सात बार की महिमा बरनी,
सब गुण कौन बखान करे,
सिंह पीठ पर चढ़ी भवानी,
अटल भवन में राज करे,
दर्शन पावे मंगल गावे,
सिद्ध साधक तेरी भेंट धरे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

ब्रह्मा वेद पढ़े तेरे द्वारे,
शिव शंकर हरी ध्यान धरे,
इन्द्र कृष्ण तेरी करे आरती,
चंवर कुबेर डुलाय रहे,
जय जननी जय मात भवानी,
अटल भवन में राज करे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा,
हाथ जोड़ तेरे द्वार खड़े,
पान सुपारी ध्वजा नारियल,
ले ज्वाला तेरी भेंट धरे,
सुन जगदम्बे कर ना विलम्बे,
संतन के भडांर भरे |
संतन प्रतिपाली सदा खुशहाली,
जय काली कल्याण करे | |

अन्य मनमोहक भजन-

Top 10 दुर्गा माँ भजन लिरिक्स

501+ Popular – हिंदी भजन लिरिक्स


भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे लिरिक्स, Bhor Bhai Din Chadh Gaya Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे लिरिक्स, Bhor Bhai Din Chadh Gaya Lyrics दिया गया है-

भजन –

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे,
हो रही जय जय कार मंदिर विच,
आरती जय माँ,
हे दरबारा वाली आरती जय माँ,
है पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

काहे दी मैया तेरी आरती बनावा,
काहे दी पावां विच बाती,
मंदिर विच आरती जय माँ,
तू हे चोलेयाँ वाली आरती जय माँ,
हे माँ पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

सर्व सोने दी आरती बनावा,
अगर कपूर पावां बाती,
मंदिर विच आरती जय माँ,
हे माँ पिंडी रानी आरती जय माँ,
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

कौन सुहागन दिवा बालेया मेरी मैया,
कौन जागेगा सारी रात,
मंदिर विच आरती जय माँ,
सच्चिया ज्योतां वाली आरती जय माँ,
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

सर्व सुहागिन दिवा बलिया मेरी अम्बे,
ज्योत जागेगी सारी रात,
मंदिर विच आरती जय माँ,
हे माँ त्रिकुटा रानी आरती जय माँ,
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

जुग जुग जीवे तेरा जम्मुए दा राजा,
जिस तेरा भवन बनाया,
मंदिर विच आरती जय माँ,
हे मेरी अम्बे रानी आरती जय माँ,
हे पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

सिमर चरण तेरा ध्यानु यश गावे,
जो ध्यावे सो, यो फल पावे,
रख बाणे दी लाज,
मंदिर विच आरती जय माँ,
सोहने मंदिरां वाली आरती जय माँ ||

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे,
हो रही जय जय कार मंदिर विच,
आरती जय माँ,
हे दरबारा वाली आरती जय माँ,
है पहाड़ा वाली आरती जय माँ ||

अन्य मनमोहक भजन-


मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

For English Lyrics Click Here – Meri Jholi Chhti Pad gayi Re

Meri Jholi Chhoti Pad Gayi Re Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे लिरिक्स, Meri Jholi Chhoti Pad Gayi Re Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता |
मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता ||

मेरी बिगड़ी माँ ने बनायीं,
सोयी तकदीर जगाई |
ये बात ना सुनी सुनाई,
मैं खुद बीती बतलाता रे,
इतना दिया मेरी माता |

मेरी झोली छोटी पड़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता ||

मान मिला सम्मान मिला,
गुणवान मुझे संतान मिली |
धन धान मिला, नित ध्यान मिला,
माँ से ही मुझे पहचान मिली ||

घरबार दिया मुझे माँ ने,
बेशुमार दिया मुझे माँ ने,
हर बार दिया मुझे माँ ने,
जब जब मैं मागने जाता,
मुझे इतना दिया मेरी माता ||

मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता |
मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता ||

मेरा रोग कटा मेरा कष्ट मिटा,
हर संकट माँ ने दूर किया,
भूले से जो कभी गुरुर किया,
मेरे अभिमान को चूर किया ||

मेरे अंग संग हुई सहाई,
भटके को राह दिखाई,
क्या लीला माँ ने रचाई |
मैं कुछ भी समझ ना पाता,
इतना दिया मेरी माता ||

मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता |
मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता ||

उपकार करे भव पार करे,
सपने सब के साकार करे,
ना देर करे माँ मेहर करे |
भक्तो के सदा भंडार भरे,
महिमा निराली माँ की,
दुनिया है सवाली माँ की ||

जो लगन लगा ले माँ की,
मुश्किल में नहीं घबराता रे,
मुझे इतना दिया मेरी माता ||

मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता |
मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता ||

कर कोई यतन ऐ चंचल मन,
तूँ होके मगन चल माँ के भवन |
पा जाये नैयन पावन दर्शन,
हो जाये सफल फिर ये जीवन ||

तू थाम ले माँ का दामन,
ना चिंता रहे ना उलझन,
दिन रात मनन कर सुमिरन |
जा कर माँ कहलाता,
मुझे इतना दिया मेरी माता ||

मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता |
मेरी झोली छोटी पढ़ गयी रे,
इतना दिया मेरी माता ||


सोच के निकला था तेरे से सब कुछ मांगूगा | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

Tere Se Sab Kuch Mangunga Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – सोच के निकला था तेरे से सब कुछ मांगूगा लिरिक्स, Tere Se Sab Kuch Mangunga Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ सोच के निकला था तेरे से सब कुछ मांगूगा लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

सोच के निकला था तेरे से सब कुछ मांगूगा,
ये भी मांगूगा तेरे से वो भी मांगूगा,
लेकिन जब तेरे सामने आया सब कुछ भूल गया,
मुझे याद रही बस तू ही तू माँ झंडेवाले तू ही तू ||

खाली झोली लेके गया था मैया मैं तेरे दर पे,
बड़ी बड़ी फर्यादे थी जब निकला था घर से,
बेटा मंगू गा तेरे से बेटी मंगू गा,
मेहरो भरे खजाने वाली पेटी मंगू गा,
लेकिन जब तेरे सामने आया सब कुछ भूल गया,
मुझे याद रही बस तू ही तू माँ झंडेवाले तू ही तू ||

क्या मांगू क्या न मांगू मैं फेंसला कर न पाया,
मैंने सोचा मांग लूँगा मैं जो भी मन में आया,
शोरत मांगू गा तेरे से दोलत मांगू गा,
लम्बी उम्र को पाने की मैं मोहलत मांगू गा,
लेकिन जब तेरे सामने आया सब कुछ भूल गया,
मुझे याद रही बस तू ही तू माँ झंडेवाले तू ही तू ||

मुझे पता था मैया दर से खाली नही लोटाती,
देना होता है जब माँ ने तभी वो हमे भुलाती,
दर्शन मांगू गा मैया से किरपा मांगू गा,
मैया मैं तेरे दर से अब तुझको मांगू गा,
लेकिन जब तेरे सामने आया सब कुछ भूल गया,
मुझे याद रही बस तू ही तू माँ झंडेवाले तू ही तू ||


नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

Nange Nange Paon Chal Aa Gaya Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ लिरिक्स, Nange Nange Paon Chal Aa Gaya Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी |
नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

हाथो में ले गंगा जल गागर
श्रद्धा से स्नान करा गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी |
नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

लाल लाल चोला किनारी गोटे वाला
लाल लाल चुनरी ओड़ा गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी |
नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

चांदी की कटोरी में केसर घोल के
माथे पे तिलक गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

चंपा चमेली गुलाब जूही गेंदा
पुष्पों की माला पहना गया री माँ
एक तेरा पुजारी ||

नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी |
नंगे नंगे पावं चल आ गया री माँ
एक तेरा पुजारी || 


बता दे पुरवईया भवानी कब आयेगी | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

बता दे पुरवईया भवानी कब आयेगी लिरिक्स, Bata De Purvaiya Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – बता दे पुरवईया भवानी कब आयेगी लिरिक्स, Bata De Purvaiya Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ बता दे पुरवईया भवानी कब आयेगी लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

Bata De Purvaiya Bhavani Kab Aayegi Lyrics

बता दे पुरवईया भवानी कब आयेगी ||
भवानी कब आयेगी, दर्श दिखलाएगी॥

मैंने सुना है माँ के आँगन, सुख का सावन बरसे ||
कभी कोई ना खली लौटा, महारानी के दर से ||
किस्मत के मारो की कब, झोली भर जायेगी॥

डाली चिठ्ठी भेजे संदेसे, कोई जवाब ना आया ||
ना मेरे घर आई तू मैया, न ही मुझे बुलाया ||
बैठा हूँ मैं इसी भरोसे, कभी तो फेरा पाएगी॥

रोम रोम में बसी भवानी, मैं उस का दीवाना ||
उसके दर के सिवा ना कोई, मेरा और ठिकाना ||
प्यार से मैया कभी तो मुझको गोदी बीठलाएगी॥

दीपक आशाओं का मेरे कहीं यह बुझ न जाए ||
तरस रही हैं आखें मेरी व्याकुल मन घबराए ||
मुरझायी बगिया को अम्बे कभी महकाएगी॥

बता दे पुरवईया भवानी कब आयेगी ||
भवानी कब आयेगी, दर्श दिखलाएगी॥


इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

Ek Tara Ek Rukman Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन लिरिक्स, Ek Tara Ek Rukman Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

Ek Tara Ek Rukman Lyrics

इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
अंतर क्या है दोनों ही बहनों में बोलो
अंतर क्या है दोनों ही बहनों में बोलो

इक राजकुमारी इक भाग्य की मारी
इक राजकुमारी इक भाग्य की मारी
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||

इक जब पैदा हुई तो घर-घर बजने लगी शहनाई
बजने लगी शहनाई, बजने लगी शहनाई
इक जब पैदा हुई अभागन नदिया बीच बहाई
नदिया बीच बहाई, नदिया बीच बहाई

इक गाये, इक रोये, इक पाए, इक खोये
इक गाये, इक रोये, इक पाए, इक खोये
अंतर क्या है दोनों ही बहेनो में बोलो
अंतर क्या है दोनों ही बहेनो में बोलो ||

इक खुशी मनाये, इक ठोकरे खाए
इक खुशी मनाये, इक ठोकरे खाए
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||

इक राजा संग गयी बियाही बन गयी महलों ही रानी
बन गयी महलों ही रानी, बन गयी महलों ही रानी
इक कुटिया की बनी रौशनी रानी की नौकरानी
रानी की नौकरानी, रानी की नौकरानी

इक रानी, इक दासी, दोनों की आत्मा प्यासी
इक रानी, इक दासी, दोनों की आत्मा प्यासी
अंतर क्या है दोनों ही बहनों में बोलो
अंतर क्या है दोनों ही बहनों में बोलो ||

इक जगन रचाए, इक बचन निभाए
इक जगन रचाए, इक बचन निभाए
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||

तारा रानी की कथा का भक्तो सार यही है
भक्तो सार यही है, भक्तो सार यही है
ऊँच नीच का भेद ना समझे सच्चा प्यार वही है
सच्चा प्यार वही है, सच्चा प्यार वही है ||

तारा की अमर कहानी यूं तो है सदियों पुरानी
यूं तो है सदियों पुरानी,यूं तो है सदियों पुरानी
अंतर क्या है दोनों ही कथा में बोलो
अंतर क्या है दोनों ही कथा में बोलो ||

इक चंचल ने सुनाई इक, भक्तों ने सुनाई
इक चंचल ने सुनाई इक, भक्तों ने सुनाई ||

इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||
इक तारा इक रुक्मण दोनों ही माँ की पुजारन ||


जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

Top 51 Ganesh Bhajan Lyrics, गणेश भजन लिरिक्स
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये लिरिक्स, Jai Jai Mangalmurti ki Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

जय जय गणपति बप्पा,
जय जय गणपति बप्पा,
जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये
गणपति बप्पा मोरया मंगलमूर्ति मोरया ||

जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये ||

जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये ||
जय जय गणपति बप्पा
जय जय गणपति बप्पा

भक्तों का रखवाला है ये चारभुजा धारी
इसके पावन चरणों में है झुकती दुनिया सारी
झुकती दुनिया सारी झुकती दुनिया सारी ||
गजानन भगवन के दर की जो भी करेंगे सेवा
गौरीनंदन उनको देंगे साँचे सुख का मेवा
साँचे सुख का मेवा साँचे सुख का मेवा ||

भक्ति और भावना की सुधा घोलिये
गणपति बप्पा मोरया मंगलमूर्ति मोरया ||
भक्ति और भावना की सुधा घोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये |||

विघ्न विनाशक एक दन्त का नाम बड़ा सुखदायी
शरणागत के दुखभंजन के सुख की दौलत पाई
सुख की दौलत पाई सुख की दौलत पाई ||
मूषकबाहु पे चढ़के ये तीन लोक में घूमें
पग पग गति की अनुपम धूलि सूरज चंदा चूमे
सूरज चंदा चूमे सूरज चंदा चूमे ||

कभी अपने मन की भी आँखे खोलिये
गणपति बप्पा मोरया मंगल मूर्ति मोरया ||
कभी अपने मन की भी आँखे खोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये |||

शिव के राजकुँवर की करलो सच्चे मन से पूजा
तीन तरफ जग की सृष्टि में और नहीं है दूजा ||
और नहीं है दूजा और नहीं है दूजा ||
रिद्धि सिद्धि का ये स्वामी ||
दया की दृष्टिवाले

सुख सम्पदा वहाँ पे बरसे उड़ते बादल काले
उड़ते बादल काले उड़ते बादल काले ||
वरष के तराज़ू में न इसे तोलिये
गणपति बप्पा मोरया मंगल मूर्ति मोरया ||
वरष के तराज़ू में न इसे तोलिये ||
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये ||
जय जय मंगलमूर्ति की मन से बोलिये
जय हो ||

गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
गणपति के भक्तों न कभी भी डोलिये
जय जय गणपति बप्पा
जय जय गणपति बप्पा
जय जय गणपति बप्पा

अन्य मनमोहक भजन-


आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

Top 21 Navratri Bhajan Lyrics – नवरात्रि भजन लिरिक्सNarendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई लिरिक्स, Aaja Aaja Re Bhawani Teri Yaad Aayi Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई,
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई,
हे महारानी तेरी याद आई,
हे महारानी तेरी याद आई,
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई ||

ज्योत जगाई तेरी याद आई,
चौकीं सजाई तेरी याद आई,
हे महामाई तेरी याद आई,
हे महामाई तेरी याद आई,
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई ||

आये नवराते तेरी याद आई,
भवन पे आते तेरी याद आई,
चुनरी चढ़ाते तेरी याद आई,
चुनरी चढ़ाते तेरी याद आई,
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई ||

काज रचाया तेरी याद आई,
शगन मनाया तेरी याद आई,
शीश झुकाया तेरी याद आई,
शीश झुकाया तेरी याद आई,
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई ||

ढोलक बजाते तेरी याद आई,
भेटें सुनाई तेरी याद आई,
भेटें सुनाई तेरी याद आई,
नाचते नचाते तेरी याद आई,
नचदे नचाते तेरी याद आई,
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई ||

आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई
हे महारानी तेरी याद आई
हे महारानी तेरी याद आई
आजा आजा रे भवानी तेरी याद आई ||


तू मैया मैं तेरा लाल नी माये | Narendra Chanchal Bhajan Lyrics

फ़िल्मी तर्ज भजन – दे दे थोड़ा प्यार मैया लिरिक्स, De De Thoda Pyar Maiya Lyrics
Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स

यहाँ – तू मैया मैं तेरा लाल नी माये लिरिक्स, Tu Maiya Main Tera Laal Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ Narendra Chanchal Bhajan Lyrics, नरेंद्र चंचल भजन लिरिक्स
स्वर – नरेन्द्र चंचल

तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||
रही तू सदा मेरे नाल नी माये ||
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||
रही तू सदा मेरे नाल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

ममता दी चुन्नी हेठा मैनु लुका लै ||
बिंगा ना होन देई बाल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

मेहरां दा मेरे सर रखे जे हथ तू ||
तू पूछे मैं दसां हाल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

मैनु तू रोक लई सौ वारी टोक देई ||
मारा जे विंगी टेडी छाल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

लोक परलोक ओहनू किते भी ढोयी ना ||
चले जो तेरे नाल नाल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

जदो तू जोड़दी टूटियां डोरां ||
काल दा आ जांदा काल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

दोष तू धो दे मेरे, निर्दोष मायीए ||
तू दयाल मैं निहाल नी माये,
तू मैया मैं तेरा लाल नी माये ||

अन्य मनमोहक भजन-


छोटे रसोई उपकरणों, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स, जैसे मिक्सर ब्लेंडर, कूकर, ओवन, फ्रिज, लैपटॉप, मोबाइल फोन और टेलीविजन आदि सटीक तुलनात्मक विश्लेषण के लिए उचित कीमत आदि जानने के लिए क्लिक करें – TrustWelly.com

धन्यवाद्
पवन शास्त्री ( सुर सरिता भजन )

Thank you


Share: