Raag Gaud Sarang Bandish With Alaap And Taan In Hindi

Share:

Raag Gaud Sarang Bandish With Alaap And Taan In Hindi, राग गौड़ सारंग की बंदिश नोटेशन के साथ इसका आलाप, तान आदि भी दिया जा रहा है, राग गौड़ सारंग बंदिश के बोल है – पलन लागी मोरी अँखियाँ ..

Raag Gaud Sarang Bandish With Alaap And Taan In Hindi | राग गौड़ सारंग

यह राग थाट कल्याण के अंतर्गत आता है यदि आपको राग खमाज का पूरा परिचय, बंदिश नोटेशन, आलाप – तान और विशेषता भी चाहिए तो नीचे लिंक पर क्लिक करें:-

Raag Yaman Bandish Notation With Alap and Taan

 

Raag Gaud Sarang परिचय

  • ठाट: कल्याण
  • जाति: वक्र सम्पूर्ण
  • गायन समय: मध्याह्न काल
  • वादी: ग
  • संवादी: ध

आरोह – सा ग रे म ग, प म’ ध प, नि ध सां |
अवरोह – सां ध नि प, ध म’ प, ग रे म ग, प रे सा |

Raag Gaud Sarang विशेषता

  1. इस राग तीव्र मध्यम (म) का अल्प प्रयोग केवल आरोह में पंचम (प) के साथ होता है| तथा शुद्ध माध्यम (म) आरोह, अवरोह दोनों में प्रयोग होता है| एवं अन्य सभी स्वर शुद्ध प्रयोग किये जाते हैं|
  2. इसमें राग की रंजकता बढ़ाने के लिए कभी – कभी कोमल नि का प्रयोग किया जाता है|

Raag Gaud Sarang Bandish – Palan Lagi Mori Notation

छोटा ख्याल                          तीनताल ( मध्यलय )

 

म म रे सा | सा रे सा सा |

प ल न ला | s गी मो री|

0              3

 

ग   रे   म  ग | प म’ ध प|

अँ खि याँ  s| आ लि बि न |

x                  2

 

ध नि सां रें | सां नि ध प|

पि यु मो रा| जी या घ ब |

0                3

 

म म रे गम | प् रे सा सा|

रा s वे चैs | न s न हीं |

x                2

 

.ध .नि .प – | प प म प |

आ s वे s | घ री प ल |

0              3

 

ग म रे गम | प रे – सा|

छी न दी न | s रै s न |

x                 2

 

अंतरा :-

म – मग प| प प सां ध|

बी s र प | थी क वा ले |

x               2

 

सां सां – सां | सां रें सां – |

जा वो s सं | दे स वा s |

0               3

 

सां सां ध ध | सां सां सां – |

पि या स न | क  हि  यो s |

x                 2

 

सां रें सां सां | ध – नि प |

मो s  रि व्य  | था  s s s |

0                   3

 

म म रे म | म रे सा सा |

तु म रे द | र श बि  न |

x              2

 

सा म सा सा | म ग प प |

प  र  त  न   | s हि बि र |

0                     3

 

म’पध म’प  ग – | म रे सा – |

हीss   नs  को s |  क ल s s |

x                       2

 

Raag Gaud Sarang Taan

  1. गरे मग पम धप गरे मग परे सा- | = 8 मात्रा
  2. म’प धनि सांनि धप गरे मग परे सा- | = 8 मात्रा
  3. रेग रेम गग पप रेरे सासा रेरे सा- | = 8 मात्रा
  4. गरे मग पम धप गरे मग परे सा- म’प धनि सांनि धप गरे मग परे सा- | = 16 मात्रा

Raag Gaud Sarang Bandish पलन लागी मोरी Lyrics” Here for your practice, along with Raag Gaud Sarang Bandish With Alap And Taan, some alap and taan have also been given. Hope you have liked it and now with the help of it you will have understood Raag Gaud Sarang Bandish very well.


यहाँ पर आपके अभ्यास के लिए Raag Gaud Sarang Bandish With Alap And Taan, राग गौड़ सारंग के साथ – साथ कुछ आलाप और तान भी दिया गया है | उम्मीद है आपको जरोर पसंद आया होगा और अब आप इसकी मदद से राग बिलावल को अच्छे से समझ गए होंगे |

 ऐसे ही  फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें | 
और Visit करें TrustWelly.com पर |
धन्यवाद्
-पवन शास्त्री, सुर सरिता भजन

Share: