यह चरन सरोज तिहारे अमंगल हारे | Yah Charan Saroj Holi Chautal

इस Article में आपको यह चरन सरोज तिहारे अमंगल हारे, Yah Charan Saroj Holi Chautal Lyrics का हिंदी एवं English Lyrics भी दिया जा रहा है |

यह चरन सरोज तिहारे अमंगल हारे | Yah Charan Saroj Holi Chautal in Hindi

यह चरन सरोज तिहारे,अमंगल हारे ||

अरे हे दशरथ के सुवन दयानिधि,दीनबन्धु हितकारे ||

कर धनु-सर सिर मुकुट बिराजत,

कलंगी बहुभाँति सँवारे ||अमंगल हारे ||

अरे कमल-नयन मुख-बयन सुधा-सम,

केसर तिलक लिलारे ||

कंठा-कंठ माल-मनि सोभित,

श्रुति-कुण्डल की द्युति न्यारे ||अमंगल हारे ||

अरे कल्प बिरिछ तर कनक सिंघासन,

तेहि पर आसन डारे ||

बाम भाग सीता सुठि सोभित,

करिके नव-सात सिंगारे ||अमंगल हारे ||

अरे भरत लखन रिपुदमन खडे़ धरि,

चँवर छत्र तरवारे ||

द्विज छोटकुन पंखा भल फेरत,

मारुत-सुत प्रान अधारे ||अमंगल हारे ||

अन्य होली गीत –


यह चरन सरोज तिहारे अमंगल हारे | Yah Charan Saroj Holi Chautal
यह चरन सरोज तिहारे अमंगल हारे, Yah Charan Saroj Holi Chautal Lyrics

छोटे रसोई उपकरणों, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स, जैसे मिक्सर ब्लेंडर, कूकर, ओवन, फ्रिज, लैपटॉप, मोबाइल फोन और टेलीविजन आदि सटीक तुलनात्मक विश्लेषण के लिए उचित कीमत आदि जानने के लिए क्लिक करें – TrustWelly.com

Share: