श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics

इस Article में आपको Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics, श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स का हिंदी और English LYRICS भी दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि यह Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics, श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स आपके लिए जरूर helpful साबित होगा |

श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स | Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics In Hindi

श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics
श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics

यहाँ – श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics दिया गया है-

भजन -​​ श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स
तर्ज – ज़िन्दगी इम्तेहान लेती है

श्याम जी विपदा क्यों सताती है,
मुश्किलों में जान जाती है,
श्याम जी विपदा क्यों सताती है ||

कोई ना जिनको वो किसको सुनाए,
हालात अपने वो किसको दिखाए,
हालात अपने वो किसको दिखाए,
हर ख़ुशी दर से लौट जाती है,
मुश्किलों में जान जाती है,
श्याम जी विपदा क्यों सताती है ||

हर अगले कदम पर है गम के मारे,
कोई ना उनका है बेसहारे,
कोई ना उनका है बेसहारे,
गरदशी उनको मुँह चिढ़ाती है,
मुश्किलों में जान जाती है,
श्याम जी विपदा क्यों सताती है ||

जिनको नहीं है तेरा सहारा,
किनारे पे बैठा डूबा बेचारा,
किनारे पे बैठा डूबा बेचारा,
ज़िन्दगी हार मान जाती है,
मुश्किलों में जान जाती है,
श्याम जी विपदा क्यों सताती है ||

जितनी बड़ी हो विपदा की घड़ियाँ,
आशा की बाबा टूटे ना कड़ियाँ,
आशा की बाबा टूटे ना कड़ियाँ,
ये आस ही बाजी हर जिताती है,
तुझसे ये श्याम मिलाती है,
श्याम जी विपदा क्यों सताती है ||

श्याम जी विपदा क्यों सताती है,
मुश्किलों में जान जाती है,
श्याम जी विपदा क्यों सताती है ||

अन्य बेहतरीन भजन:-


Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics In English

In this article, you are also being given the Hindi and English LYRICS of Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics In English and I hope that Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics will prove to be helpful for you ||

bhajan -​​ Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai lyrics
tarj – zindagee imtehaan letee hai

shyaam jee vipada kyon sataatee hai,
mushkilon mein jaan jaatee hai,
shyaam jee vipada kyon sataatee hai..

koee na jinako vo kisako sunae,
haalaat apane vo kisako dikhae,
haalaat apane vo kisako dikhae,
har khushee dar se laut jaatee hai,
mushkilon mein jaan jaatee hai,
shyaam jee vipada kyon sataatee hai..

har agale kadam par hai gam ke maare,
koee na unaka hai besahaare,
koee na unaka hai besahaare,
garadashee unako munh chidhaatee hai,
mushkilon mein jaan jaatee hai,
shyaam jee vipada kyon sataatee hai..

jinako nahin hai tera sahaara,
kinaare pe baitha dooba bechaara,
kinaare pe baitha dooba bechaara,
zindagee haar maan jaatee hai,
mushkilon mein jaan jaatee hai,
shyaam jee vipada kyon sataatee hai..

jitanee badee ho vipada kee ghadiyaan,
aasha kee baaba toote na kadiyaan,
aasha kee baaba toote na kadiyaan,
ye aas hee baajee har jitaatee hai,
tujhase ye shyaam milaatee hai,
shyaam jee vipada kyon sataatee hai..

shyaam jee vipada kyon sataatee hai,
mushkilon mein jaan jaatee hai,
shyaam jee vipada kyon sataatee hai..

श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics
श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics

श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics जरुर पसंद आया होगा अगर आपको यह श्याम जी विपदा क्यों सताती है लिरिक्स, Shyam Ji Vipda Kyun Satati Hai Lyrics पसंद आया हो तो –

कमेंट करके जरूर बताएं एवं आप अपनी रिकवेस्ट भी हमे कमेंट करके बता सकते है, उस भजन या गीत आदि को जल्द से जल्द लाने की हमारी कोशिश रहेगी |

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए   “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर F O L L O W करें |

और S U B S C R I B E करें मेरे y o u t u b e चैनल “sur sarita techknow-Youtube” “S U R  S A R I T A  T E C H K N O W” – You tube को |

P L E A S E   C O M M E N T और शेयर जरूर करें ||

धन्यवाद्
पवन शास्त्री ( सुर सरिता भजन )

Thank you

Share: