कान्हा जी के भजन लिखे हुए, ढोलक पर कृष्ण जी के भजन लिरिक्स | Krishna Bhajan

कान्हा जी के भजन लिखे हुए | ढोलक पर कृष्ण जी के भजन लिरिक्स | Krishna Bhajan

कान्हा जी के भजन लिखे हुए, ढोलक पर कृष्ण जी के भजन लिरिक्स | Krishna Bhajan
कान्हा जी के भजन लिखे हुए, ढोलक पर कृष्ण जी के भजन लिरिक्स, Krishna Bhajan

Kridhna Bhajan Likhe Huye | Krishna Bhajan:

1. गगरिया फोड़ दी मेरी लिरिक्स

भजन – गगरिया फोड़ दी मेरी ( Krishna Bhajan)

अरी मैया कन्हैयां की शरारत क्या कहूं नटखट की
मटकिया फोड़ दी मेरी, गगरिया फोड़ दी मेरी
कि आके पीछे से चुपके से, तेरे इस छलिया ने कान्हा ने
मटकिया फोड़ दी मेरी

अंधेरी रात में आकर, मेरा माखन चुराता है -2
ये लडता है झगडता है, मुझे आंख दिखाता है -2
चुनरियाँ खीच कर मेरी, वो मारा हाथ घूँघट पट पे
नथनियाँ तोड़ दी मेरी – 2

फसा कर मुझको बातौ में, सदा घर पै बुलाती है – 2
अगर इन्कर करू मईया, शिकायत लेके आती है
ये झूठी है जमाने भर की मिली थी कल मुझे पनघट पै
बसुरिया तोड़ दी मेरी – 2

ये झगडा गोपी कान्हा का, निराला है अनोखा है -2
बिहारी से हां मिलने का सुनहरा ये ही मौका है
मै बलिहारी री मैं बारी, कन्हैया को बिठाकर घर में
लगनिया जोड़ दी मेरी-2

अन्य बेहतरीन भजन:-

2. रंग बरसे नाचे कृष्ण मुरारी लिरिक्स

भजन – रंग बरसे नाचे कृष्ण मुरारी ( Krishna Bhajan)
तर्ज – रंग बरसे भीगे

रंग बरसे नाचे,
कृष्ण मुरारी रंग बरसे,
रंग बरसे नाचें,
राधा प्यारी रंग बरसे ||

टेढ़ो सा है मेरो बांके बिहारी,
है तीखी कटारी वृंदावन बिहारी,
मारे ज़ोर से पिचकारी,
मुरारी रंग बरसे,
रंग बरसे नाचें,
कृष्ण मुरारी रंग बरसे ||

सांवलो है लाला और गोरी है लाली,
हाथों में दोनो के रंगो की थाली,
दोनो हुए पुरे लाल,
जो उड़ा गुलाल रंग बरसे,
रंग बरसे नाचें,
कृष्ण मुरारी रंग बरसे ||

छाती फुलाए पहुँचे बरसाने,
पहुँचे बरसाने राधा को सताने,
लठ्ठ की मार ख़ाके भागे,
मुरारी रंग बरसे,
रंग बरसे नाचें,
कृष्ण मुरारी रंग बरसे ||

नन्हे कान्हा ने गोवर्धन उठाया,
इंद्र की वर्षा से ब्रज को बचाया,
और होली पे सबको भीगाए,
लीला कैसी दिखाए रंग बरसे,

रंग बरसे नाचें,
कृष्ण मुरारी रंग बरसे ||

रंग बरसे नाचे,
कृष्ण मुरारी रंग बरसे,
रंग बरसे नाचें,
राधा प्यारी रंग बरसे ||

सम्पूर्ण सुन्दरकाण्ड पाठ हिंदी लिरिक्स

3. मेरा छोड़ दे दुपट्टा नन्दलाल लिरिक्स

भजन – मेरा छोड़ दे दुपट्टा नन्दलाल ( Krishna Bhajan)

मेरा छोड़ दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी,
सवेरे दही लेके आउंगी,
सवेरे दही लेके आउंगी,
मेरा छोड दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी ||
ना माने तो मेरी चुनर रखले,
ना माने तो मेरी चुनर रखले,
या में सितारे जड़े है हज़ार,
सवेरे दही लेके आउंगी,
मेरा छोड दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी ||

ना माने तो मेरा हरवा रखले,
ना माने तो मेरा हरवा रखले,
या में हीरे जड़े है हज़ार,
सवेरे दही लेके आउंगी,
मेरा छोड दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी ||

ना माने तो मेरे कंगन रखले,
ना माने तो मेरे कंगन रखले,
या में मोती जड़े है हज़ार,
सवेरे दही लेके आउंगी,
मेरा छोड दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी ||

ना माने तो मेरे दिल को रखले,
ना माने तो मेरे दिल को रखले,
या में बैठे बिहारी लाल,
सवेरे दही लेके आउंगी,
मेरा छोड दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी ||

मेरा छोड़ दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी,
सवेरे दही लेके आउंगी,
सवेरे दही लेके आउंगी,
मेरा छोड दे दुपट्टा नन्दलाल,
सवेरे दही लेके आउंगी ||

4. राधा की पायल छम छम बाजे लिरिक्स

भजन – राधा की पायल छम छम बाजे ( Krishna Bhajan)

​राधा की पायल छम छम बाजे, छम छम बाजे राधा रानी नाचे,
श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
राधा का श्याम दीवाना, राधा का श्याम दीवाना,
राधा का श्याम दीवाना, राधा का श्याम दीवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,

राधा जब पायल खनकाये, राधा जब पायल खनकाये,
कानुडो झट दोड्यो चलो आवे, कानुडो झट दोड्यो चलो आवे,
करे ना कोई बहाना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,

हरी भरी धरती हरा हर उपवन, हरी भरी धरती हरा हर उपवन,
गूँज रहा सारा वृन्दावन, गूँज रहा सारा वृन्दावन,
गूँज रहा बरसाना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,

गौर वरन कि राधा प्यारी, सावली सुरत कष्ण मुरारि,
ज्यु शमा परवाना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,

भक्तो भजलो राधे राधे, राधेजी फ़िर श्याम से मिलादे,
प्रेम का मत्र सुहाना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,

​राधा की पायल छम छम बाजे, छम छम बाजे राधा रानी नाचे,
श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,
मेरे श्याम ने छेड़ा है तराना, राधा का श्याम दिवाना,

5. मेरा छोटा सा संसार हरी आ जाओ एक बार लिरिक्स

भजन – मेरा छोटा सा संसार हरी आ जाओ एक बार ( Krishna Bhajan)

मेरा छोटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार,
हरी आ जाओ, हरी आ जाओ,
मेरी नैया पार लगा जाओ,
मेरी बिगड़ी आ के बना जाओ,
मेरा छोंटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार ||

लाखो को दरश दिखाया है,
प्रभु मुझको क्यों तरसाया है,
ये कैसी तुम्हारी माया है,
नित बहती है असुवन धार,
नित बहती है असुवन धार,
हरी आ जाओ एक बार,
मेरा छोंटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार ||

जब याद तुम्हारी आती है,
तन मन की सुध बिसराती है,
रह रह के मुझे तड़पाती है,
तन मन धन दूँ सब वार,
तन मन धन दूँ सब वार,
हरी आ जाओ एक बार,
मेरा छोंटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार ||

मुझको बिछड़े युग बीत गए,
क्यों रूठ प्रभु मेरे मीत गए,
मैं हार गया तुम जीत गए,
अब दर्शन दो साकार,
अब दर्शन दो साकार,
हरी आ जाओ एक बार,
मेरा छोंटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार ||

मेरा छोटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार,
हरी आ जाओ, हरी आ जाओ,
मेरी नैया पार लगा जाओ,
मेरी बिगड़ी आ के बना जाओ,
मेरा छोंटा सा संसार,
हरी आ जाओ एक बार ||

6. नगरी नगरी द्वारे द्वारे ढूँढूँ रे सांवरिया लिरिक्स

भजन – नगरी नगरी द्वारे द्वारे ढूँढूँ रे सांवरिया ( Krishna Bhajan)
तर्ज – नगरी नगरी द्वारे द्वारे

नगरी नगरी द्वारे द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया,
कृष्णा कृष्णा रट के मैं तो,
हो गई रे बावरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

नगरी नगरी द्वारे द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया,
कृष्णा कृष्णा रट के मैं तो,
हो गई रे बावरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

बेदर्दी मोहन ने हमको,
सौंपा ग़म की आग में,
बिरहा की चिंगारी भर दी,
दुखिया के संसार में,
पल-पल मनवा रोए छलके,
नैनों की गगरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

आया थी अँखियों में लेकर,
सपने क्या-क्या प्यार के,
जाता हूँ दो आँसू लेकर,
आशाएं सब हार के,
दुनिया के मेले में लुट गई,
जीवन की गठरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

दर्शन के दो भूखे नैना,
जीवन भर न सोएंगे,
बिछड़े मोहन तेरे कारण,
रातों को हम रोएंगे,
अब न जाने कृष्णा कैसे,
बीतेगी उमरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

नगरी नगरी द्वारे द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया,
कृष्णा कृष्णा रट के मैं तो,
हो गई रे बावरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

नगरी नगरी द्वारे द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया,
कृष्णा कृष्णा रट के मैं तो,
हो गई रे बावरिया,
नगरी नगरी द्वारें द्वारे,
ढूँढूँ रे सांवरिया ||

7. छलकत हमरी गगरिया ये कान्हा लिरिक्स

भजन -​​ छलकत हमरी गगरिया ये कान्हा ( Krishna Bhajan)

छलकत हमरी गगरिया ये कान्हा,
छीनों ना मोरी चुनरियाँ नंदलाला,
अब रोकूँ ना तोहरी डगरिया, हो बृज बाला ||

करे चुगली हज़ार मोरी माँ से बार बार,
कहे लाला है तेरा बड़ो उत्पाती,
सारी गोपी सरेआम मुझे करे बदनाम,
और झगड़ा करण नही शरमाती,
कन्हैयाँ रूठों ना,
दिल में जो है हमसे कहलो,
गर्जत कब से बिजुरिया,
कान्हां पकड़ो ना मोरी कलैया, हो नन्दलाला,
अब पकड़ूँ ना तोहरी कलैया, हो ब्रिजबाला ||

ना करुँगी तकरार, मोरे मदन मुरार,
तेरी मुरली की धुन मोर लागे प्यारी,
मै तो मानूँ हर बात ना लडूंगी तेरे साथ,
तेरे साँवरे रंग जाऊँ बलिहारी,
ओ बाला सीधा साधा हूँ मैं, ना मुझसे खेलो,
मतवाला सीधा साधा हूँ मैं, ना मुझसे खेलो,
लचकत हमरी कमरिया रे कान्हा,

फोरी ना मेरी गगरिया नंदलाला,
अब फोडू ना तोहरी गगरिया हो ब्रिज बाला,
अब पकड़ूँ ना तोहरी कलैया, हो ब्रिजबाला ||

मेरे नैना कजरारे करे सखियों पर वार,
हारी दिल जिगर मोपे सब हारी
देख मेरा यह कमाल होई दीवानी सब बेहाल,
करे बिनती करत बारी बारी,
गोपाला रजनीश को चरण शरण में, अपने ले लो,
मेरे कान्हा, रजनीश को चरण शरण में, अपने ले लो,
दरसत अमित की नज़रिया ओ कान्हा,
छीनों ना मोरी चुनरियाँ नंदलाला,
अब रोकूँ ना तोहरी डगरिया, हो बृज बाला ||
अब रोकूँ ना तोहरी डगरिया, हो बृज बाला ||

8. गोविन्द बोलो हरी गोपाल बोलो लिरिक्स 

भजन​​ – गोविन्द बोलो हरी गोपाल बोलो ( Krishna Bhajan)

गोविन्द बोलो हरी गोपाल बोलो,
राधा रमण हरी गोविन्द बोलो,
राधा रमण हरी गोविन्द बोलो,
गोविन्द बोलों हरी गोपाल बोलो ||

ब्रह्मा की जय जय विष्णु की जय जय,
ब्रह्म की जय जय विष्णु की जय जय,
ओ ग्यान की देवी सरस्वती की जय जय,
ओ ग्यान की देवी सरस्वती की जय जय,
गोविन्द बोलों हरी गोपाल बोलो ||

रामजी की जय जय लक्ष्मण जी की जय जय,
रामजी की जय जय लक्ष्मण जी की जय जय,
भरतजी की जय जय शत्रुघ्न जी जय जय,
भरतजी की जय जय शत्रुघ्न जी की जय जय,
जनक दुलारी सीता माता की जय जय,
जनक दुलारी सीता माता की जय जय,
गोविन्द बोलों हरी गोपाल बोलो ||

गंगा की जय जय यमुना की जय जय,
गंगा की जय जय यमुना की जय जय,
त्रिवेणी मात सरस्वती की जय जय,
त्रिवेणी मात सरस्वती की जय जय,
गोविन्द बोलों हरी गोपाल बोलो ||

माता की जय जय पिता की जय जय,
माता की जय जय पिता की जय जय,
अपने अपने गुरूदेव की जय जय,
अपने अपने गुरूदेव की जय जय,
गोविन्द बोलों हरी गोपाल बोलो ||

गोविन्द बोलो हरी गोपाल बोलो,
राधा रमण हरी गोविन्द बोलो,
राधा रमण हरी गोविन्द बोलो,
गोविन्द बोलों हरी गोपाल बोलो ||

9. राधे राधे जपो चले आएंगे बिहारी लिरिक्स

भजन​​ – राधे राधे जपो चले आएंगे बिहारी ( Krishna Bhajan)

राधे राधे जपो चले आएँगे बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी,
आएँगे बिहारी चले आएँगे बिहारी,
राधे राधे जपो चले आएँगे बिहारी ||

राधा मेरी चंदा,
चकोर है बिहारी,
राधा मेरी चंदा,
चकोर है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी मिश्री,
तो स्वाद है बिहारी,
राधा रानी मिश्री,
तो स्वाद है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी गंगा,
तो धार है बिहारी,
राधा रानी गंगा,
तो धार है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी तन है तो,
प्राण है बिहारी,
राधा रानी तन है तो,
प्राण है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी सागर,
तरंग है बिहारी,
राधा रानी सागर,
तरंग है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी मोहनी,
तो मोहन बिहारी,
राधा रानी मोहनी,
तो मोहन है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा मेरी गोरी तो,
साँवरे बिहारी,
राधा मेरी गोरी तो,
साँवरे बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी भोली भाली ,
चंचल बिहारी,
राधा रानी भोली भाली ,
चंचल बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी नथनी,
तो कंगन बिहारी,
राधा रानी नथनी,
तो कंगन बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधा रानी मुरली,
तो तान है बिहारी,
राधा रानी मुरली,
तो तान है बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी ||

राधे राधे जपो चले आएँगे बिहारी,
राधे राधे रटो चले आएँगे बिहारी,
आएँगे बिहारी चले आएँगे बिहारी,
राधे राधे जपो चले आएँगे बिहारी ||

10. अरे रे मेरी जान है राधा लिरिक्स

भजन​​ – अरे रे मेरी जान है राधा ( Krishna Bhajan)

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं,

जब भी बने तू राधा श्याम बनूँगा ,
जब भी बने तू सीता राम बनूँगा,
तेरे बिना आधा सुबह शाम कहूँगा,
आत्मा से राधा राधा नाम कहूँगा ||

अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं ||

सुन्दर नैन विशाल,
मोहनी सूरत प्यारी हैं,
कितनी ग्वालन गोपियाँ,
तू सबसे न्यारी है,
तुम बिन रास रचाऊ कैसे,
जानत सारी है,
श्याम की दिल की रानी,
तू बरसाने वाली है,

अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं ||

तेरा ही तो नाम पुकारे,
बंसी भोरी री,
गैया भी पहचाने राधा,
महक टोरी री,
तूने किनी नैनन से,
मेरे मन की चोरी री,
कैसी जोड़ी कृष्ण कारा,
राधा गोरी री,

अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं ||

हिचकी आये राधा तेरी,
याद सताती है,
यमुना की लहरों में तेरी,
झलक सी आती हैं,
सज धज के सखियों में तू,
पनघट जाती हैं,
सूखी धरती में भी प्रीत के,
कमल खिलाती हैं,

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं ||

अरे रे मेरी जान हैं राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं,

जब भी बने तू राधा श्याम बनूँगा ,
जब भी बने तू सीता राम बनूँगा,
तेरे बिना आधा सुबह शाम कहूँगा,
आत्मा से राधा राधा नाम कहूँगा ||

अरे रे मेरी जान है राधा,
तेरे पे क़ुर्बान मैं राधा,
रह न सकूंगा तुमसे दूर मैं ||

11. श्याम के बिना तुम आधी तुम्हारे बिना श्याम आधे

( Krishna Bhajan)

श्याम के बिना तुम आधी,
तुम्हारे बिना श्याम आधे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे,
आठो पहर जो रहे अंग संग,
उस सांवरे की एक झलक,
दिखला दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ||

मैं तो संवारे के रंग मे राजी,
बाँध घुघरू भी पग मे नाची,
कैसो निष्ठुर भयो यशोदा का लाला,
बात मेरे ह्रदय की ना मानी,
अपनो के संग यू करते नही,
सांवरे को नेक समझा दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ||

छवि श्याम की बसाई लई चित मे,
खड़ी बाट निहारू नित्त नित्त मैं,
श्याम के बिना मुझे कुछ नहीं सुझे,
श्याम के बिना जाऊ कित मैं,
कैसे बूझे प्यास नैनो की,
रास्ता कोई तो दिखला दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ||

कही केशव कही पे कन्हैया,
कही नटवर रास रचैया,
मेरी भी नैय्या अटकी भवर मे,
पार कर देना बन के खिवैया,
विनती मेरी भी इतनी सी,
बंसी बजैया तक पहुचा दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ||

श्याम के बिना तुम आधी,
तुम्हारे बिना श्याम आधे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे,
आठो पहर जो रहे अंग संग,
उस सांवरे की एक झलक,
दिखला दे,
राधे राधे राधे राधे,
राधे राधे राधे राधे ||

12. कंकरिया से मटकी फोड़ी लिरिक्स

भजन​​ – कंकरिया से मटकी फोड़ी लिरिक्स
तर्ज – अँखियो से गोली मारे ( Krishna Bhajan)
स्वर – लखबीर सिंह ( लक्खा )

सुन री यशोदा मैया,
तेरे नंदलाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी,
कंकरिया से मटकी फोड़ी,
मदन गोपाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी ||

नानो कन्हैया तेरो बड़ा उत्पाती,
संग में ग्वाल बाल खुरापाती,
कर दे डगरिया पे,
कर दे डगरिया पे,
कर दे डगरिया पे चलना मोहाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी,
मदन गोपाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी ||

छाछ दही माखन को बेरी,
दाड़ो ढीठ डाटे से ना डरे री,
ऊँचे छीके टांगी,
ऊँचे छीके टांगी,
ऊँचे छीके टांगी बहुत संभाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी,
मदन गोपाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी ||

सुन री यशोदा मैया,
तेरे नंदलाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी,
कंकरिया से मटकी फोड़ी,
मदन गोपाल रे,
कंकरिया से मटकी फोड़ी ||

Share: