Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

1. ऐसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

मैं हिमाचल की बेटी,
मेरा भोला बसे काशी |
सारी उमर तेरी सेवा करुँगी,
बनकर तेरी दासी ||

शम्भू .. शिव शिव शिव शिव शम्भू,
शिव शिव शिव शिव शम्भू ||

ऐसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
बम बम..
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया |
बम बम..
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

डमरू को सुनकर जी कान्हा जी आए,
कान्हा जी आए संग राधा भी आए,
डमरू को सुनकर जी कान्हा जी आए,
कान्हा जी आए संग राधा भी आए |
वहाँ सखियों का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

डमरू को सुनकर जी गणपति चले,
गणपति चले संग कार्तिक चले,
डमरू को सुनकर जी गणपति चले,
गणपति चले संग कार्तिक चले |
वहाँ अम्बे का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

डमरू को सुनकर जी रामा जी आए,
रामा जी आए संग लक्ष्मण जी आए,
मैया सिता का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
बम बम..
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

डमरू को सुनकर के ब्रम्हा चले,
यहाँ ब्रम्हा चले वहाँ विष्णु चले,
डमरू को सुनकर के ब्रम्हा चले,
यहाँ ब्रम्हा चले वहाँ विष्णु चले |
मैया लक्ष्मी का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

डमरू को सुनकर जी गंगा चले,
गंगा चले वहाँ यमुना चले,
डमरू को सुनकर जी गंगा चले,
गंगा चले वहाँ यमुना चले,
वहाँ सरयू का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

डमरू को सुनकर जी सूरज चले,
सूरज चले वहाँ चंदा चले,
डमरू को सुनकर जी सूरज चले,
सूरज चले वहाँ चंदा चले |
सारे तारों का मन भी मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

ऐसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
बम बम..
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया |
बम बम..
ऐंसा डमरू बजाया भोलेनाथ ने,
सारा कैलाश पर्वत मगन हो गया || ||

अन्य शिव जी भजन:

शिव चालीसा अर्थ सहित

Top 10 शिव जी भजन लिरिक्स

शिव तांडव स्तोत्र लिरिक्स और अर्थ

2. मेरा भोला है भंडारी | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

मेरा भोला है भंडारी,
करे नंदी कि सवारी ||
भोले नाथ रे,
ओ शंकर नाथ रे ||

सबना दा रखवाला ओ शिवजी,
डमरूवा वाला जी डमरूवा वाला,
ऊपर कैलाश रेहंदा भोले नाथ जी,
धर्मियो जो तारदे शिवजी,
पापिया जो मारदा जी,
पापिया जो मारदा,
बड़ा ही दयाल मेरा भोले अमली,
ॐ नमः शिवाय शम्भो,
ॐ नमः शिवाय |

महादेवा तेरा डमरू डम डम,
डम डम बजतो जाए रे,
हो महादेवा महादेवा,
ॐ नमः शिवाय शंभू,
ॐ नमः शिवाय || ||

सर से तेरे बहती गंगा,
काम मेरा हो जाता चंगा,
नाम तेरा जब लेता, महादेवा,
मां पिया दे घरे ओ गोरा,
महला च रेहंदी,
जी महला च रेहंदी,
विच समसाना रहंदा भोलेनाथ जी,
कालेया कुंडला वाला,
मेरा भोले बाबा |

किधर कैलाशा तेरा डेरा ओ जी,
सर पे तेरे ओ गंगा मैया विराजे,
मुकुट पे चंदा मामा ओ जी,
ॐ नमः शिवाय,
ॐ नमः शिवाय शंभू,
ॐ नमः शिवाय || ||

भंग जे पिन्दा ओ शिवजी,
धुनी रमांदा जी धुनी रमांदा,
बड़ा ही तपारी मेरा भोले अमली,
मेरा भोला है भंडारी,
करता नंदी कि सवारी भोले नाथ रे,
ओ शंकर नाथ रे ||

मेरा भोला है भण्डारी,
करे नंदी कि सवारी,
शम्भुनाथ रें शंकर नाथ रे,
गौरा भांग रगड़ के बोली,
तेरे साथ है भूतो की टोली,
मेरे नाथ रे शम्भु नाथ रें,
ओ भोले बाबा जी,
दर तेरे मैं आया जी,
झोली खाली लाया जी,
खाली झोली भरदो जी |

कालेया सर्पा वाला,
मेरा भोले बाबा,
शिखरे कैलाशा विच रहंदा ओ जी || ||

मेरा भोला है भंडारी,
करे नंदी कि सवारी ||
भोले नाथ रे,
ओ शंकर नाथ रे ||

3. शिव कैलाशो के वासी | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

शिव कैलाशो के वासी,
धौली धारों के राजा,
शंकर संकट हरना,
शंकर संकट हरना || ||

तेरे कैलाशों का अंत ना पाया,
तेरे कैलाशों का अंत ना पाया,
अंत बेअंत तेरी माया,
ओ भोले बाबा,
अंत बेअंत तेरी माया ||
शिव कैलाशों के वासी,
धौली धारों के राजा,
शंकर संकट हरना,
शंकर संकट हरना || ||

बेल की पत्तियां भांग धतुरा,
बेल की पत्तियां भांग धतुरा,
शिव जी के मन को लुभायें,
ओ भोले बाबा,
शिव जी के मन को लुभायें ||
शिव कैलाशों के वासी,
धौली धारों के राजा,
शंकर संकट हरना,
शंकर संकट हरना || ||

एक था डेरा तेरा,
चम्बे रे चौगाना,
दुज्जा लायी दित्ता भरमौरा,
ओ भोले बाबा,
दुज्जा लायी दित्ता भरमौरा ||
शिव कैलाशों के वासी,
धौली धारों के राजा,
शंकर संकट हरना,
शंकर संकट हरना || ||

शिव कैलाशो के वासी,
धौली धारों के राजा,
शंकर संकट हरना,
शंकर संकट हरना || ||

4. महाकाल की महाकाली | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

या देवी सर्वभूतेषु, शक्ति-रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै, नमस्तस्यै नमो नमः।।

हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली
हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली

हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली
हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली

एक चोटी पे है बैठे
श्री खंड महादेव
एक चोटी पे है बैठी
मेरी भी महाकाली

ॐ जयन्ती मङ्गला काली भद्रकाली कपालिनी।
दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु ते।।
ॐ जयन्ती मङ्गला काली भद्रकाली कपालिनी।
दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु ते।।

हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली
हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली

सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते।।
सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते।।

हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली
हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली

हे महाकाली दुर्ग काली
महाकाल की महाकाली

5. लागी मेरी तेरे संग लगी | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

Singer/Lyrics/Composer : Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

ओ बाबा तेरी क्या ही बात है,
भोले शंकरा तेरी क्या ही बात है |
दूर होके भी तू साथ है,
ओ दूर होके भी तू साथ है | |

खुद को मैं करदूंगा तुझको समर्पण,
मैं तेरा आंसू हूँ तू मेरा दर्पण |
तेरे ही होने से मेरी ये सारी जिंदगी सधी है | |

लागी मेरी तेरे संग लगी मेरे शंकरा |
लागी मेरी तेरे संग लगी मेरे शंकरा | |

लागी मेरी प्रीत तेरे संग मेरे शंकरा |
लागी मेरी प्रीत तेरे संग मेरे शंकरा | |

तू पिता है मेरा और तुहि रहेगा,
मेरी हर गलती को तू हंस के सहेगा |
तेरे ताप से मन का उड़ गया है पंछी,
सब तेरी बदौलत है आज ये रघुवंशी | |

तुहि सूक्ष्म है और तुहि विशाल है,
तू ही उत्तर है और तुहि सवाल है |
तुहि सत्य है बाकी जिंदगी विनाश की है | |

लागी मेरी तेरे संग लगी मेरे शंकरा |
लागी मेरी तेरे संग लगी मेरे शंकरा | |

लागी मेरी प्रीत तेरे संग मेरे शंकरा |
लागी मेरी प्रीत तेरे संग मेरे शंकरा | |

ध्यान में है मगन तन पे ओढ़ के रे चोली,
मुझे अपने रंग में रंगले संग खेल मेरे होली |
ना आसान है निचे ना है कोई खटोली,
मुझे अपने रंग में रंग दे संग खेल मेरे होली | |

बस भी करो मेरे शंकरा,
भांग रगड़ के बोली ये गोरा |
तुम नहीं राजी है गोरा लोट के राजी है | |

लागी मेरी तेरे संग लगी मेरे शंकरा |
लागी मेरी तेरे संग लगी मेरे शंकरा | |

लागी मेरी प्रीत तेरे संग मेरे शंकरा |
लागी मेरी प्रीत तेरे संग मेरे शंकरा | |

6. लागी लगन शंकरा 2 Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

जय हो, जय हो, जय हो तेरी शंकरा
जय हो, जय हो, जय हो तेरी शंकरा
जय हो, जय हो, जय हो तेरी शंकरा
जय हो, जय हो, जय हो तेरी शंकरा

लागी तुझसे लगन शंकरा
लागी तुझसे लगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा

कोई कहे तुझे शिव वैरागी
लगन मेरी तुझसे लागी
कोई कहे तुझे शिव वैरागी
लगन मेरी तुझसे लागी

कोई कहे तुझे आदिनाथ
कोई कहे तुझे आदिनाथ
मुझको है बस तेरा साथ
शंकरा

लागी तुझसे लगन शंकरा
लागी तुझसे लगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा

डम डम डम डमरू तेरा बाजे
सर पे चँदा मामा साजे
हाथ में तेरे त्रिसूल भोले
जटा में तेरे गंगा माँ विराज

गले में तेरे सर्प माला
गले में तेरे सर्प माला
आसन तेरा मृग की छाला
शंकरा

लागी तुझसे लगन शंकरा
लागी तुझसे लगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा

देव महादेव हरी तुम हो महेश
संग गौरा मैया संग कार्तिक गणेश
तू ही कीर्तिवास है भोले
लगन मेरी तुझसे लागी मिट गए कलेश

कोई कहे तुझे जटाधारी
तू ही है भोला भंडारी
चरण में झुके दुनिया सारी
शंकरा

लागी तुझसे लगन शंकरा
लागी तुझसे लगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा

महिमा देव तेरी जाता जाऊं
जहाँ भी जाऊं भोले तुझको पाऊं
रघुवंशी गाये तेरी महिमा
महिमा गाके सबको मैं सुनाऊँ

देवो में तुम देव दयाला
पीवे भोला विष का प्याला
तू ही महादेव प्यारा
शंकरा

लागी तुझसे लगन शंकरा
लागी तुझसे लगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा
मन तुझमे मगन शंकरा

सुनो भोले गोरा बोली
खेलेंगे भोले संग तेरे होली
रूप देखा बैरागी तेरा
भोले जी मैं तो तेरी हो ली

होली खेले अम्बीरा से खोये ना रंग
भोले को भावे धतूरा विष और भंग
नामो में नाम तेरा भोले जी है मस्त मलंग
रहना है भोले मुझको होके आज तुझमे मगन
होके आज तुझमे मगन
होके आज तुझमे मगन

होली खेले अम्बीरा से खोये ना रंग
भोले को भावे धतूरा विष और भंग
नामो में नाम तेरा भोले जी है मस्त मलंग
रहना है भोले मुझको होके आज तुझमे मगन
होके आज तुझमे मगन
होके आज तुझमे मगन

7. महादेव के दीवाने | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने

हो तेरी माया ना जाने
बाबा, हम है तेरे दीवाने
रे बाबा तेरे दीवाने
रे भोले तेरे दीवाने

हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने

जो गंगा को सर से है बहाते
उसके दीवाने
जो नाग को है गले सजाते
उसके दीवाने

जो मस्ती में डमरू है बजाते
उसके दीवाने
जो तांडव भयंकर है मचाते
उसके दीवाने

हो तेरी माया ना जाने
बाबा, हम है तेरे दीवाने
रे बाबा तेरे दीवाने
रे भोले तेरे दीवाने

हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने

नमामी शमीशान निर्वाण रूपम
विभुं व्यापकं ब्रह्मा वेदा स्वरूपं
निजम निर्गुणं निर्विकल्पं निरीहं
चिदाकाश माकाश वासं भजेहं

निराकार ओमकार मूलं तुरीयं
गिराज्ञान गोतीत मीशं गिरीशं
करालं महाकाल कालम कृपालं
गुणागार संसार पारं नतोहं

जो राख को तन पर है रमते
उसके दीवाने
जो विष को भी है पी जाते हम
उसके दीवाने

जो कैलाश के राजा कहलाते
उसके दीवाने
जो शमशानों में डेरा लगाते
उसके दीवाने

हो तेरी माया ना जाने
बाबा, हम है तेरे दीवाने
रे बाबा तेरे दीवाने
रे भोले तेरे दीवाने

हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने

जो बेलपत्र से खुश हो जाते
उसके दीवाने
जो दिन दुखियों के दुःख को मिटाते
उसके दीवाने

जो मनचाहा वर दे है जाते
उसके दीवाने
जो औघड़ दानी है कहलाते
उसके दीवाने

हो तेरी माया ना जाने
बाबा, हम है तेरे दीवाने
रे बाबा तेरे दीवाने
रे भोले तेरे दीवाने

हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने
हम दीवाने महादेव के हम दीवाने

8. पार्वती बोली शंकर से | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

भजन – पार्वती बोली शंकर से लिरिक्स हंसराज रघुवंशी
गायक – हंसराज रघुवंशी

पार्वती बोली शंकर से,
सुनिये भोलेनाथ जी,
रहना है हर इक जन्म में,
मुझे तुम्हारे साथ जी |

पार्वती बोली शंकर से,
सुनिये भोलेनाथ जी,
रहना है हर इक जन्म में,
मुझे तुम्हारे साथ जी |

वचन दिजिये ना छोड़ेंगे,
कभी हमारा हाथ जी ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

जैसे मस्तक पे चंदा है,
गंगा बसी जटाओं में,
वैसे रखना हे अभिनाशी,
मुझे प्रेम की छाँव में,

जैसे मस्तक पे चंदा है,
गंगा बसी जटाओं में,
वैसे रखना हे अभिनाशी,
मुझे प्रेम की छाँव में,

कोई नहीं तुमसा तीनों,
लोको में दसों दिशाओ में,
महलों से ज्यादा सुख है,
कैलाश की खुली हवाओ में,

तुम हो जहाँ वहाँ होती है,
तुम हो जहाँ वहाँ होती है,
अमृत ​​की बरसात जी,

रहना है हर इक जन्म में,
मुझे तुम्हारे साथ जी,
वचन दिजिये ना छोड़ेंगे,
कभी हमारा हाथ जी ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

देव हो तुम देवों के भोले,
अमर हो अंतरयामी हो,
भाग्यवान है हम त्रिपुरारी,
आप हमारे स्वामी हो,

देव हो तुम देवों के भोले,
अमर हो अंतरयामी हो,
भाग्यवान है हम त्रिपुरारी,
आप हमारे स्वामी हो |

पुष्प विमानो से प्यारी,
हमको नंदी की सवारी जी,
युगो युगो से पार्वती,
भोले तुमपे बलिहारी जी,

जब लाओ तुम ही लाना,
जब लाओ तुम ही लाना,
द्वारे मेरे बारात जी ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

प्राण मेरे बस्तें हैं तुममें,
तुम बिन मेरी नहीं गति,
अग्नि कुण्ड में होके भस्म,
तुम हुई थी मेरे लिए सती,

शिव बिन जैसे शक्ति अधूरी,
शक्ति बिन शिव आधें है,
जन्मों तक ना टूटेंगे ये,
जनम जनम के नातें हैं,

तुम ही मेरी संध्या हो गौरी,
तुम ही मेरी प्रभात जी ||

वचन है मेरा ना छोडूंगा,
कभी तुम्हारा हाथ जी,
सदा रहे हैं सदा रहेंगे,
गौरी शंकर साथ जी ||

हे गोरा पार्वती, हे गोरा पार्वती
जी भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

ओ मेरा भोला है,
मेरे साथ साथ,
मैं झूम झूम के नाचूँ,
मेरा भोला है,
मेरे साथ साथ,
मैं झूम झूम के नाचूँ,

मैं झूम झूम के नाचूँ,
अर्रे घूम घुम के नाचूँ |
मेरा भोला, हो मेरा भोला,
मेरा भोला है,
मेरे साथ साथ,
मैं झूम झूम के नाचूँ,

मेरा भोला है,
मेरे साथ साथ,
मैं घुम घुम के नाचूँ ||

ओ भोलेनाथ जी, ओ शम्भू नाथ जी,
ओ भोलेनाथ जी, ओ शंकरनाथ जी ||

9. जाना पड़ेगा शमशान | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

जाना पड़ेगा शमशान लिरिक्स

ॐ असतो मा सद्गमय,
तमसो मा ज्योतिर्गमय,
मृत्योर्मामृतं गमय ||

राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
बाबा ओ बाबा, बाबा
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है ||

जाना है – जाना है,
जाना है – जाना है
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
वहां मिलेंगे भोले,
वहां मिलेंगे भोले सब कहेंगे राम नाम सत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है ||

वहां मिलेंगे भोले,भोले,
वहां मिलेंगे भोले सब कहेंगे राम नाम सत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है,
राम नाम सत्य है, जीवन असत्य है ||
बाबा ओ बाबा, बाबा

जाना है – जाना है,
जाना है – जाना है
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान ||

यहाँ राजा भी गए, यहाँ रंक भी गए,
फ़क़ीर भी गए, साधु संत भी गए,
यहाँ राजा भी गए, यहाँ रंक भी गए,
फ़क़ीर भी गए, साधु संत भी गए,
जाना है – जाना है,
जाना है – जाना है
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान ||

दो दिन का मेला,
दो दिन का मेला आया भी अकेला,
दो दिन का मेला आया भी अकेला, और जायेगा अकेला,
शमशान,-शमशान,शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान,
जाना पड़ेगा शमशान ||

10. तेरी सेवा करूँगा | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

शिव शिव महादेवा, शिव शिव महादेवा,
शिव शिव महादेवा, शिव शिव महादेवा |
शिव शिव महादेवा, शिव शिव महादेवा,
शिव शिव महादेवा, शिव शिव महादेवा ||

देवा देवा देवा महादवा,
चरणों में रहके करूँ सेवा |
देवा देवा देवा महादवा,
चरणों में रहके करूँ सेवा ||

कर्म मेरा काम है,
धर्म तेरा नाम है,
जिउं तेरे लिए और तेरे लिए मरूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा ||

हर हर महादेव, हर हर महादेव,
हर हर महादेव, हर हर महा देवा रे देवा ||

जन्मो से तुझको ढूंढा है,
इस जन्म में तुझको पाया है,
दूर रहले बाबा जितना तू,
संग मेरे तेरा साया है,
तेरा ही होने से, मेरी ये जिन्दगी आज शान में,
तेरे न होने से, मेरी ये जिन्दगी आज वीरान में ||

कर्म मेरा काम है,
धर्म तेरा नाम है,
जिउं तेरे लिए और तेरे लिए मरूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा ||

अखंड बिल्वपत्रं च आयुतं शिवपूजनम,
कृतं नाम सहस्रेण एकबिल्वं शिवार्पणम ||

उमया सह देवेश नंदी वाहनमेव च,
भस्म लेपन सर्वान्गम एकबिल्वं शिवार्पणम ||

उमया सह देवेश नंदी वाहनमेव च,
भस्म लेपन सर्वान्गम एकबिल्वं शिवार्पणम ||

तेरा नाम ही है काफी बस मेरे लिए,
फिर जिंदगी में कोई गम नहीं,
तू जो भोले नाथ संग खड़ा,
ये भी बात कोई कम नहीं,
तू ही वक्त तू ही तो चाहत है, तू ही हर पुकार है,
तू ही तो राहत है तू ही हर आदत है, तू ही मेरा अधिकार है ||

कर्म मेरा काम है,
धर्म तेरा नाम है,
जिउं तेरे लिए और तेरे लिए मरूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा,
सारी उम्र तेरी सेवा करूँगा ||

हर हर महादेव, हर हर महादेव,
हर हर महादेव, हर हर महा देवा रे देवा ||
हर हर महादेव, हर हर महादेव,
हर हर महादेव, हर हर महा देवा रे देवा ||

11. भोला मस्त मलंग | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

महलों की रानी राजकुमारी,
क्यूँ बंध गई तेरे संग |
तू भोला मस्त मलंग,
भोला मस्त मलंग ||

भोला मस्त मलंग अड़ियो,
गौरा हो गयी तंग अड़ियो,
तेरा भोला मस्त मलंग अड़ियो |
गौरा हो गयी तंग अड़ियो,
युगों युगों से तेरी मेरी कहानी,
तू मेरा दीवाना मैं तेरी दीवानी ||
क्यों ना रंगू मैं तेरे रंग,
तू भोला मस्त मलंग,
भोला मस्त मलंग, भोला मस्त मलंग ||

गौरा ने बीज लई हरी हरी मेहन्दी,
मेरे भोले ने बीज लई भंग अड़ियो,
गौरा हो गयी तंग अड़ियो |
तू पीवे भोले भाँग धतूरा
संग तूने बिठाया झुंड भूतों का पूरा
वो हो गयी रे यूं तंग
तू भोला मस्त मलंग |
भोला मस्त मलंग, भोला मस्त मलङ्ग
गौरा दी उग गयी हरी हरी मेहंदी ||

मेरे भोले दी उग गयी भंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
सबको तू देवे महल बनारे
मुझकों बिठाया कैलाशों के किनारें |
जाने ना दिल की तू उमंग
भोला मस्त मलंग ||

गौरा ने तोड़ लई हरी हरी मेहंदी,
मेरे भोले ने तोड़ लई भंग अड़ियो
गौरा हो गयी तंग अड़ियो
मैं ओडु भोले सालो दो साले
तू ओड़े भोले मृग की छालें,
मुझको ना भावे तेरा ढंग ||

तू भोला, मस्त मलंग
भोला मस्त मलंग ||

12. शंभू रे तेरा भेद ना जाना | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

शंभू रे, ओ शंभू रे,
तेरा भेद ना जाना |
शंभू रे ओ शंभू रे,
तेरा भेद ना जाना ||

वेदों की महिमा शंभू जाने,
वेदों की महिमा शंभू जाने,
शम्भू की महिमा वेद भी ना जाने,
शंभू रे ओ शंभू रै,
तेरा भेद ना जाना ||

लंका मे लंकेश बिठाया,
खुद बैठा तू जोगी बनके,
लंका मे लंकेश बिठाया,
खुद बैठा तू जोगी बनके,
सबको तूने राजा बनाया ||

खुद बैठा तू साधु बनके,
साधु रे ओ साधु रे,
तेरा भेद ना जाना,
वेदों की महिमा साधू जाने,
साधु की महिमा वेद भी ना जाने,
शंभू रे ओ शंभू रै,
तेरा भेद ना जाना ||

देव असुर को अमृत देकर,
खुद पीवे तू विष का प्याला,
देव असुर को अमृत देकर,
खुद पीवे तू विष का प्याला |
तुझ जैसा ना कोई भयंकर,
ना कोई है भोला भाला ||

भोले रे ओ भोले रे,
तेरा वेद ना जाना,
भोले की महिमा भोला जाने,
भोले की महिमा जाने ना कोई,
शंभू रे ओ शंभू रै,
तेरा भेद ना जाना ||

शंभू रे, ओ शंभू रे,
तेरा भेद ना जाना,
शंभू रे ओ शंभू रे,
तेरा भेद ना जाना ||

वेदों की महिमा शंभू जाने,
वेदों की महिमा शंभू जाने,
शम्भू की महिमा वेद भी ना जाने,
शंभू रे ओ शंभू रै,
तेरा भेद ना जाना ||

13. शिव शिव शंकरा | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics. शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा ||

शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय
शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय ||

मेरे साथ चलना मेरे संग रहना,
मेरे साथ चलना मेरे संग रहना,
मेरे कष्टों को भष्म करना ||

शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय,
शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय ||

माथे पे तेरे चंदा विराजे
गंगा जट्टा के बीच समाये शंकरा,
काल भी तू है महाकाल तू है
त्रिलोक भी तू शिव भी तुही शंकरा ||

मेरा भोला है भण्डारी,
करे सबकी ये रखवाली,
चाहे राजा हो या भिखारी,
सुनता सबकी बारी-बारी ||

शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा ||

शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय,
शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय ||

गोदी में तेरे गनपत विराजे
तेरे अंग संग रहे गौरा मैया शंकरा,
सर पे बिठा गौरा की सौतन
जिसे लोग कहते हैं गंगा मैया शंकरा ||

जट्टा विच गंगा बहती ऐ
द्वार्जा पुछदी रहन्दी ऐ,
जट्टा विच गंगा बहती ऐ
द्वार्जा पुछदी रहन्दी ऐ ||

तू दस मेरे भोले
गंगा तेरी की लगदी ऐ,
तेरे दर पे आया बाबा
झोली खाली लाया बाबा,
जल चढ़ाने आया बाबा
बड़ी दूर से आया बाबा ||

तेरे दर की शान निराली
संग बिठाये माँ गड काली,
संग बिठाये भैरव बाबा
तू ही साधु अगंड दानी ||

शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय,
शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय ||

मेरे साथ चलना मेरे संग रहना
मेरे साथ चलना मेरे संग रहना,
मेरे कष्टों को भष्म करना ||

शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय,
शिव शिव शंकरा
नमः शिवाय ||

शिव शिव शंकरा
शिव शिव शंकरा,
शिव शिव शंकरा
शिव शिव शंकरा ||

14. भोलेनाथ की शादी – Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

यहाँ – भोलेनाथ की शादी, Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics दिया गया है-

Bhajan – Bholenath Ki hadi
Singer – Hansraj Raghuwanshi
Lyrics – Ravi Raj
Music – Zakir

है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||

है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||

पिया है भंग, बजी है बिट,
चढ़ी है मस्ती, गायेंगे गीत,

छोड़ के सारी फिकरा,
खुशियाँ बाँटेंगे ||

है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||

दुल्हन बनी है गौर मैया
नंदी पे हैं शंकर
शम्भो,
सखियाँ छेड़ रही गौरा को
बाराती बड़े भयंकर,
सखियाँ छेड़ रही गौरा को
बाराती बड़े भयंकर,

मची है धूम, रहे सर घूम,
रहे सर घूम ,मची है धूम ||

अजी चाँद सितारे आसमान से झांकेंगे ||

है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||

युगों युगों में बनती है,
शिव गौर सी जोड़ी,
एक बाभूति वाले बाबा,
गौर गोरी गोरी,
एक बाभूति वाले बाबा,
गौर गोरी गोरी,

प्यार का खेल हुए हैं मेल,
प्यार का खेल,
जोगी संग राजकुमारी,
दुःख सुख बाँटेंगे ||

है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||

बगड़ बम ब बम,
ब बम बम बम,
बम भोले ||

जगमग करती शहर की गलियां,
बटने लगी मिठाइयाँ,
रवि राज की और से सबको,
लख-लख होण बधाइयाँ,
हंसराज की और से सबको,
लख-लख होण बधाइयाँ,

हो शिव का नाम बनेंगे काम,
हो सुबह शाम लो शिव का नाम,
शिव कष्ट हमारे पल भर में काटेंगे ||

है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे,
है भोलेनाथ की शादी, हम तो नाचेंगे ||

15. शिव समा रहे मुझमें | Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Top 15+ Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics | शिव भजन – हंसराज रघुवंशी
Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics

Singer – Hansraj Raghuwanshi

ॐ नमः शिवाय,
ॐ नमः शिवाय ||

शिव समा रहे मुझमें,
और मैं शुन्य हो रहा हूँ |
शिव समा रहे मुझमें,
और मैं शुन्य हो रहा हूँ ||

क्रोध को, लोभ को,
क्रोध को, लोभ को,
मैं भष्म कर रहा हूँ ||

शिव समा रहे मुझमें
और मैं शुन्य हो रहा हूँ,
ॐ नमः शिवाय..
शिव समा रहे मुझमें
और मैं शुन्य हो रहा हूँ
ॐ नमः शिवाय ||

ब्रह्म मुरारी सुरार्चिता लिंगम,
निर्मल भाषित शोभित लिंगम |
जन्मज दुखः विनाशक लिंगम,
तत् प्रनमामि सदा शिव लिंगम ||

ब्रह्म मुरारी सुरार्चिता लिंगम,
निर्मल भाषित शोभित लिंगम |
जन्मज दुखः विनाशक लिंगम,
तत् प्रनमामि सदा शिव लिंगम ||

तेरी बनाई दुनिया में कोई,
तुझसा मिला नहीं,
मैं तो भटका दर बदर कोई,
किनारा मिला नहीं |
जितना पास तुझको पाया
उतना खुद से दूर जा रहा हूँ ||

शिव समा रहे मुझमें,
और मैं शुन्य हो रहा हूँ,
ॐ नमः शिवाय |
शिव समा रहे मुझमें
और मैं शुन्य हो रहा हूँ
ॐ नमः शिवाय ||

मैंने खुदको खुद ही बंधा,
अपनी खींची लकीरों में,
मैं लिपट चूका था,
इच्छा की जंजीरों में |

अनंत की गहराइयों में,
समय से दूर हो रहा हूँ,
शिव प्राणों में उतर रहे,
और मैं मुक्त हो रहा हूँ ||

उठो हंसराज उठो,
उठो वत्श उठो,
वो सुबह की पहली किरण में,
वो कस्तूरी बन के हिरन में,
मेघों में गरजे, गूंजे गगन में,
रमता जोगी रमता मगन में |
वो ही आयु में, वो ही वायु में,
वो ही जिस्म में, वो ही रूह में,
वो ही छाया में, वो ही धुप में,
वो ही हर एक रूप में ||
ओ भोले…
क्रोध को, लोभ को,
क्रोध को, लोभ को,
मैं भष्म कर रहा हूँ ||

शिव समा रहे मुझमें,
और मैं शुन्य हो रहा हूँ,
ॐ नमः शिवाय |
शिव समा रहे मुझमें,
और मैं शुन्य हो रहा हूँ ||


आशा करता हूँ की यह Top 21 Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी जरुर पसंद आया होगा | “Hansraj Raghuwanshi Shiv Bhajan Lyrics, शिव भजन – हंसराज रघुवंशी

बॉलीवुड सोंग नोटेशन, सुपरहिट भजनों नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं और म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें |


छोटे रसोई उपकरणों, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स, जैसे मिक्सर ब्लेंडर, कूकर, ओवन, फ्रिज, लैपटॉप, मोबाइल फोन और टेलीविजन आदि सटीक तुलनात्मक विश्लेषण के लिए उचित कीमत आदि जानने के लिए क्लिक करें – TrustWelly.com

Share: