Shanti Path Mantra, Peace Mantra – शांति पाठ मंत्र, अर्थ और महत्व

इस Article में आपको शांति पाठShanti Path Mantra, Peace Mantra हिंदी और English font में दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि यह शांति पाठShanti Path Mantra, Peace Mantra आपके लिए जरूर helpful साबित होगा |

शांति पाठ मंत्र | Shanti Path Mantra In Hindi/Sanskrit

Shanti Path Mantra, Peace Mantra – शांति पाठ मंत्र, अर्थ और महत्व
Shanti Path Mantra, Peace Mantra – शांति पाठ मंत्र अर्थ सहित

यहाँ – शांति पाठShanti Path Mantra, Peace Mantra दिया गया है-

भजन/मंत्र -​​ शांति पाठ Shanti Path Mantra, Peace Mantra

शांति पाठ (Shanti Path Mantra) मंत्र का उच्चारण करने से शरीर में उर्जा उत्पन्न होती है तथा शरीर के अंग सुव्यवस्थित तरीके से काम करते हैं. शांति मंत्र का उच्चारण करने से मस्तिष्क भी हल्का और शांत रहता है. शांति मंत्र का निरंतर जाप करने से त्रिविध ताप की प्राप्ति होती है. जिसमें अध्यात्मिक, अधिभौति और आधिदैविक शक्तियां मजबूत हैं.

शांति पाठ (Shanti Path Mantra) मंत्र के माध्यम से कुल मिलाकर जगत के समस्त जीवों, वनस्पतियों और प्रकृति में शांति बनी रहे इसकी प्रार्थना की गई है। तो वहीं अगर इसका शाब्दिक अर्थ लिया जाए तो उसके अनुसार इसमें यह कहा गया है कि हे परमात्मा स्वरूप, शांति कीजिए, वायु में शांति हो, अंतरिक्ष में शांति हो, पृथ्वी पर शांति हों, जल में शांति हो, औषध में शांति हो, वनस्पतियों में शांति हो, विश्व में शांति हो, सभी देवतागणों में शांति हो, ब्रह्म में शांति हो, सब में शांति हो, चारों और शांति हो, हे परमपिता परमेश्वर शांति हो, शांति हो, शांति हो।

शांति पाठ, Shanti Path Mantra In Hindi

ॐ द्यौ: शान्तिरन्तरिक्षँ शान्ति:,
पृथ्वी शान्तिराप: शान्तिरोषधय: शान्ति:।
वनस्पतय: शान्तिर्विश्वे देवा: शान्तिर्ब्रह्म शान्ति:,
सर्वँ शान्ति:, शान्तिरेव शान्ति:, सा मा शान्तिरेधि॥
ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

Shanti Path Mantra, Peace mantra in English

Om dyauh shanti rantariksham shantih
Prithvi shantirapah shantih
Oshadhayah shantih Vanaspatayah shantih
Vishvedevaah shantih Brahma shantih
Sarvam shantih Shantireva shantih
Saamaa shantiredhih
Om shaantih, shaantih, shaantih!

शांति पाठ हिंदी अर्थ, Translation of the Shanti Path Mantra In Hindi

Shanti Path Mantra, Peace Mantra – शांति पाठ मंत्र, अर्थ और महत्व
Shanti Path Mantra, Peace Mantra – शांति पाठ मंत्र अर्थ सहित

शान्ति: कीजिये, प्रभु त्रिभुवन में, जल में, थल में और गगन में
अन्तरिक्ष में, अग्नि पवन में, औषधि, वनस्पति, वन, उपवन में
सकल विश्व में अवचेतन में!
शान्ति राष्ट्र-निर्माण सृजन में, नगर, ग्राम में और भवन में
जीवमात्र के तन में, मन में और जगत के हो कण कण में
ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

Translation of the Shanti Path Mantra, Peace mantra In English

May peace radiate there in the whole sky as well as in the vast ethereal space everywhere.
May peace reign all over this earth, in water and in all herbs, trees and creepers.
May peace flow over the whole universe.
May peace be in the Supreme Being Brahman.
And may there always exist in all peace and peace alone.
Om Shanti, Shanti, Shanti to us and all beings!


शांति पाठ मंत्र | Shanti Path Mantra


शांति पाठ का महत्त्व

सनातन धर्म में मंत्रों का काफी अधिक महत्व है. हिंदु घरों में शुरुआत ही मंत्रोच्चारण से होती है. ज्यादातर हिंदू संप्रदाय के लोग अपने किसी भी प्रकार के धार्मिक कृत्य, संस्कार, यज्ञ आदि के आरंभ और अंत में इस शांति पाठ (Shanti Path) के मंत्रों का मंत्रोच्चारण ज़रूर करते हैं.हिंदू धर्म में घर का मुहूर्त हो या घर बनाने की प्रक्रिया पूजा-पाठ, यज्ञ आदि मंत्रों का जाप के बिना संपन्न नहीं होता है. इसके अलावा ज्योतिष शास्त्र में ऐसे कई मंत्र बताए गए हैं, जिनका जाप करने से बहुत से लाभ प्राप्त होते हैं. साथ ही घर-परिवार में पैदा होने वाली समस्याओं का अंत होता है और घर में सुख-शांति बनी रहती है.

यजुर्वेद के एक शांति पाठ मंत्र (Shanti Path) के द्वारा ईश्वर से शांति बनाए रखने की प्रार्थना की जाती है. प्रत्येक व्यक्ति चाहता है कि उसके पारिवारिक जीवन सुख-शांति रहे.जिसके लिए वह आमतौर पर धार्मिक पूजाओं, अनुष्ठानों और प्रवचनों का पाठ इत्यादि कराता है.

Importance of Peace Mantra

Mantras have a lot of importance in Sanatan Dharma. In Hindu homes, the beginning itself starts with chanting. Most of the people of Hindu sect recite the mantras of this Shanti Path at the beginning and end of any of their religious acts, rites, yagya etc. In Hinduism, it is the Muhurta of the house or the process of making a house. Path, Yagya etc. are not completed without chanting of mantras. Apart from this, many such mantras have been told in astrology, whose chanting gives many benefits. Along with this, the problems arising in the family end and happiness and peace remain in the house.

A Shanti Path of Yajurveda is prayed to God to maintain peace. Every person wants that his family life should be happy and peaceful. For which he usually conducts religious pujas, rituals and recitation of discourses etc.

शांति के लिए कौन सा मंत्र शक्तिशाली है?

शांति पाठ – ॐ द्यौ: शान्तिरन्तरिक्षँ शान्ति:,
पृथ्वी शान्तिराप: शान्तिरोषधय: शान्ति:।
वनस्पतय: शान्तिर्विश्वे देवा: शान्तिर्ब्रह्म शान्ति:,
सर्वँ शान्ति:, शान्तिरेव शान्ति:, सा मा शान्तिरेधि॥
ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

“यह आंतरिक शांति के लिए एक सार्वभौमिक मंत्र है।

शांति पाठ कब किया जाता है?

शांति पाठ मंत्र किसी भी प्रकार के धार्मिक कृत्य, संस्कार, यज्ञ आदि के आरंभ और अंत में इस शांति पाठ के मंत्रों का मंत्रोच्चारण ज़रूर करते हैं। अगर इस मंत्र के अर्थ की बात करे तो इसमें कुल मिलाकर जगत के समस्त जीवों, वनस्पतियों और प्रकृति की शांति की प्रार्थना की गई है।

ओम शांति कब बोला जाता है?

भौतिक- भौतिक समस्याओं जैसे दुर्घटना, अपराध, मानवीय संपर्क आदि बाधाओं के लिए ऊं शांति बोलते हैं जिससे माना जाता है कि शांति मिलती है। आध्यात्मिक बाधाएं- ऐसी बाधाओं में क्रोध, निराशा, भय आदि के लिए ऊं शांति बोलते हैं जिससे शांति मिलती है।

शांति पाठ क्यों किया जाता है?

घर की सुख-समृद्धि से लेकर जीवन में शांति तक के लिए सनातन धर्म में कई मंत्रों का उच्चारण किया जाता है. यजुर्वेद के एक शांति पाठ मंत्र (Shanti Path) के द्वारा ईश्वर से शांति बनाए रखने की प्रार्थना की जाती है. प्रत्येक व्यक्ति चाहता है कि उसके पारिवारिक जीवन सुख-शांति रहे.

शांति पाठ करने से क्या होता है?

शांति पाठ करने से घर में सुख-समृद्धि और शांति एवं सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. घर परिवार में शांति बनी रहती है.

शांति पाठShanti Path Mantra, Peace Mantra जरुर पसंद आया होगा अगर आपको यह शांति पाठShanti Path Mantra, Peace Mantra पसंद आया हो तो –

कमेंट करके जरूर बताएं एवं आप अपनी रिकवेस्ट भी हमे कमेंट करके बता सकते है, उस भजन या गीत आदि को जल्द से जल्द लाने की हमारी कोशिश रहेगी |

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए   “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर F O L L O W करें |

और S U B S C R I B E करें मेरे y o u t u b e चैनल “sur sarita techknow-Youtube” “S U R  S A R I T A  T E C H K N O W” – You tube को |

P L E A S E   C O M M E N T और शेयर जरूर करें ||

धन्यवाद्
पवन शास्त्री ( सुर सरिता भजन )

Thank you

Leave a Comment