Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स

इस Article में Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स का हिंदी And English Lyrics भी दिया जा रहा है और उम्मीद है कि यह Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स आपके लिए यह Article Helpful है |

आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स, Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics In Hindi

Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स

Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स

यहाँ – Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स दिया गया है-

|| आरती तर्ज – आरती कुञ्ज बिहारी की ||

आरती पवन दुलारे की,
भक्त भय तारणहारे की ||

दोऊ कर चरण शीश नाऊँ,
दास प्रभु तुम्हरो कहलाऊँ,
जो आज्ञा तुम्हरी मैं पाऊँ,
प्रेम से राम चरित गाऊँ |
पार मेरा बेड़ा कर दीजो,
शीश चरणों में रख लीजो |
श्रष्टि सब करण,
जाऊं बलि चरण,
लाज रख लीजो भक्तन की,
आरती पवन दुलारें की,
भक्त भय तारणहारे की ||

शीश पर राम तिलक सोहे,
मुकुट मणि मानक मन मोहे,
शब्द मुख राम नाम सोहे,
जिसे सुन सकल विश्व मोहे |
तेल सिंदूर बदन लागा,
नाम सुन काल दूर भागा |
देह विकराल, गले बिच माल,
पवन सम भयंकर,
हे मतवारे की,
आरती पवन दुलारें की,
भक्त भय तारणहारे की ||

समुद्र को कूद गए क्षण में,
जा पहुंचे अशोक उपवन में,
माताजी कर रही सोच मन में,
मुद्रिका डाल दई पल में |
उजाड़ा बाग़, लगा दी आग,
दुष्ट गए भाग |
क्षार कर दिनी लंकन की,
आरती पवन दुलारें की,
भक्त भय तारणहारे की ||

लंका को जला चले आए,
खबर सीता माँ की ले आए,
राम जी के ह्रदय अति भाए,
माँ अंजनी सुत तुम कहलाए |
हरि गुण कहाँ तलक गाऊं,
पार वेदों में नहीं पाऊं,
धरे जो ध्यान, मिले भगवान,
सिद्ध होय सब काम |
दीजिए भक्ति चरणन की,
आरती पवन दुलारें की,
भक्त भय तारणहारे की ||

बाण जब लक्ष्मण को लागा,
अगन सम आप तुरत भागा,
बड़े बलवीर चले आगे,
निशाचर बहुत मिले आगे |
उठा पर्वत को चल दिना,
के बूटी लक्ष्मण मुख दिना,
राम पद रज मस्तक लीना,
सकल कपीश प्राण लीना |
बड़े दातार, जगत उद्धार,
भजे संसार,
भक्त को भोग दिवईया की,
आरती पवन दुलारें की,
भक्त भय तारणहारे की ||

चोला लाल लाल राजे,
मुष्टिका गदा हाथ साजे,
की कर में पर्वत छवि राजे,
राम जी को धर काँधे लाए,
कोपीन पर कटी अंग सोहे,
देख श्री जगन्नाथ मोहे |
रखो प्रभु लाज, गरीब निवाज,
करो सिद्ध काज,
काढ़ दो फांसी भक्तन की,
आरती पवन दुलारें की,
भक्त भय तारणहारे की ||

आरती पवन दुलारे की,
भक्त भय तारणहारे की ||

अन्य आरतियाँ एवं चालीसा-


Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics In English

Here – Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics: Aarti Pawan Dulare Ki has bin given-

aarti tarj – aarti kunj bihaari ki

aarti Pawan dulare ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

dooo kar charan shish naoon,
daas prabhu tumharo kahalaoon,
jo aagya tumhari main paoon,
prem se raam charit gaoon |
paar mera beda kar dijo,
shish charanon mein rakh lijo |
shrashti sab karan,
jaoon bali charan,
laaj rakh lijo bhaktan ki,
aarti Pawan dularen ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

shish par raam tilak sohe,
mukut mani maanak man mohe,
shabd mukh raam naam sohe,
jise sun sakal vishv mohe |
tel sindoor badan laaga,
naam sun kaal door bhaaga |
deh vikaraal, gale bich maal,
Pawan sam bhayankar,
he matavaare ki,
aarti Pawan dularen ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

samudr ko kood gae kshan mein,
ja pahunche ashok uPawan mein,
maataaji kar rahi soch man mein,
mudrika daal dai pal mein |
ujaada baag, laga di aag,
dusht gae bhaag |
kshaar kar dini lankan ki,
aarti Pawan dularen ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

lanka ko jala chale aae,
khabar sita maan ki le aae,
raam ji ke hraday ati bhae,
maan anjani sut tum kahalae |
hari gun kahaan talak gaoon,
paar vedon mein nahin paoon,
dhare jo dhyaan, mile bhagavaan,
siddh hoy sab kaam |
dijie bhakti charanan ki,
aarti Pawan dularen ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

baan jab lakshman ko laaga,
agan sam aap turat bhaaga,
bade balavir chale aage,
nishaachar bahut mile aage |
utha parvat ko chal dina,
ke booti lakshman mukh dina,
raam pad raj mastak lina,
sakal kapish praan lina |
bade daataar, jagat uddhaar,
bhaje sansaar,
bhakt ko bhog diviya ki,
aarti Pawan dularen ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

chola laal laal raaje,
mushtika gada haath saaje,
ki kar mein parvat chhavi raaje,
raam ji ko dhar kaandhe lae,
kopin par kati ang sohe,
dekh shri jagannaath mohe |
rakho prabhu laaj, garib nivaaj,
karo siddh kaaj,
kaadh do phaansi bhaktan ki,
aarti Pawan dularen ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

aarti Pawan dulare ki,
bhakt bhay taran hare ki ||

Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स

Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स

आशा करता हु कि Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स अच्छा लगा होगा अगर आपको Aarti Pawan Dulare Ki Lyrics, आरती पवन दुलारे की भक्त भय तारणहारे की लिरिक्स अच्छा लगा तो-

कृपया कंमेंट जरूर करें
 ऐसे ही  फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें | 
और s u b s c r i b e करें मेरे youtube चैनल sur sarita techknow को |
धन्यवाद्
-पवन शास्त्री
Share: