रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics

इस पद में आपको – रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics और इसका हिंदी सरगम नोट्स भी दिया जा रहा है और आशा करता हूँ कि यह – रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics आपके लिए helpful साबित होगा |

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स , Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics

यहाँ – रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics दिया गया है-

काहें पियरी तोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती |
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

जाती हमारी काँटी कटीली,
पोर – पोर पर गांठी,
हो ss गांठी |
फूलत है फल आवत नाहीं,
लोग कहत हमें पापी,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती |
हो बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

अंधन को मैं राह बताऊँ,
नाम हमारो पड़ो लाठी,
हो ss लाठी |

अंधन को मैं राह बताऊँ,
नाम हमारो पड़ो लाठी,
जिनके घर में गाय बियानी,
तोड़त है मोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती |
हो बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

काहें पियरी तोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

भूखन को फल तोड़ खिलाऊं,
गहरी नदिया थाह लगाऊं,

भूखन को फल तोड़ खिलाऊं,
गहरी नदिया थाह लगाऊं,
समय पड़े पर काम मैं आऊं,
दुश्मन की तोड़ देऊ छाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती |
हो बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

काहें पियरी तोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

हमरे के s सिरवा बनावत,
हमरे बनावत पाटी,

हमरे के s सिरवा बनावत,
हमरे बनावत पाटी,
कहत कबीर बांस के यह गुण,
कहत कबीर बांस के यह गुण,
मरघट तक है साथी |
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती |
हो बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

काहें पियरी तोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

अन्य चेतावनी व निर्गुण भजन-

Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Video

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics


रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती सरगम नोट्स , Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Notation

इस भजन में लगने वाले स्वर –

  • ग और नि पूर्णतयः कोमल हैं, अर्थात ग और नि कोमल के अलावा शुद्ध का प्रयोग नही हुआ है |
  • अतः कोमल स्वरों को के लिए किसी भी चिन्ह का प्रयोग नही किया गया है |
  • शेष सभी स्वर शुद्ध हैं |

काहें पियरी तोरी पाती,
पप   पपम धप मगरेसा
रे      बंस      वा ss
सा सारेमग रेसा.नि

काहें पियरी तोरी पाती |
.प.नि सारेग रे- सासा

रे      बंस      वा ss
सा सारेमग रेसा.नि

काहें पियरी तोरी पाती |
.प.नि सारेग रे- सासा

जाती हमारी काँटी कटी लीsss,
गग      रेमग गम धप मगरेसा.नि
पोर –   पोsर  पर गांठी,
.प.नि .निसाग रेसा सासा
हो गांsठी |
सा रेसाग

फूलत हैs फल आवत नाsहीं,
पपप    प-  प-   पधध निधप
लोग कहत हमें पाsपी,
पप पपम धपम गरेसा

रे      बंस      वा ss
सा सारेमग रेसा.नि

काहें पियरी तोरी पाती |
.प.नि सारेग रे- सासा

अंधन कोs मैं राsह बताऊँ,
गगरे  मग  ग मधप मगरेसा.नि
नाम हमारो पड़ो लाठी,
.प.नि .निसाग रेसा सासा
हो लाsठी |
सा रेसाग

अंधन कोs मैं राsह बताऊँ,
गगरे   मग  ग मधप मगरेसा.नि
नाम    हमारो पड़ो लाठी,
.प.नि .निसाग रेसा सासा

जिनके घर में गाsय बियानी,
पपप    प- प- पधध निधप
तोड़त हैs मोsरी पाsती,
पपप पम धपम गरेसा

रे      बंस      वा ss
सा सारेमग रेसा.नि

काहें पियरी तोरी पाती |
.प.नि सारेग रे- सासा

भूखन कोs फल तोड़ खिलाsऊं,
गगरे मग गम धप मगरेसा.नि
गहरी नदिया थाह लगाऊं,
.प.नि .निसाग रेसा सासा

भूखन कोs फल तोड़ खिलाsऊं,
गगरे    मग गम धप मगरेसा.नि
गहरी नदिया थाह लगाऊं,
.प.नि .निसाग रेसा सासा

समय पड़े पर काम मैं आऊं,
पपप    प- प- पधध निधप
दुश्मन की तोड़ देऊ छाती,
.प.नि .नि साग रेसा सासा

रे     बंस     वा ss
सा सारेमग रेसा.नि
काहें पियरी तोरी पाती ||
.प.नि सारेग रे- सासा

काहें पियरी तोरी पाती,
पप पपम धप मगरेसा

रे     बंस       वा ss
सा सारेमग रेसा.नि
काहें पियरी तोरी पाती ||
.प.नि सारेग रे- सासा

हमरे के s सिरवा बनाsवत,
गगरे मग गमधप मगरेसा.नि
हमरेs बनावत पाटी,
.प.नि .नि सागरेसा सासा

हमरे के s सिरवा बनाsवत,
गगरे मग गमधप मगरेसा.नि
हमरेs बनावत पाटी,
.प.नि .नि सागरेसा सासा

कहत कबीर बांस के यह गुण,
पपप प-प- पध ध नि धप
कहत कबीर बांस के यह गुण,
पपप प-प- पध ध नि धप

मरघट तक हैs साथी |
.प.नि .नि साग रेसा सासा

रे      बंस     वा ss
सा सारेमग रेसा.नि
काहें पियरी तोरी पाती ||
.प.नि सारेग रे- सासा

काहें पियरी तोरी पाती,
पप पपम धप मगरेसा

रे बंस वा ss
सा सारेमग रेसा.नि
काहें पियरी तोरी पाती ||
.प.नि सारेग रे- सासा

काहें पियरी तोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती ||

रे      बंस     वा ss
सा सारेमग रेसा.नि
काहें पियरी तोरी पाती ||
.प.नि सारेग रे- सासा

काहें पियरी तोरी पाती,
पप पपम धप मगरेसा

रे बंस वा ss
सा सारेमग रेसा.नि
काहें पियरी तोरी पाती ||
.प.नि सारेग रे- सासा

काहें पियरी तोरी पाती,
रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती || Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics ||

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics Image

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics

रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics

आशा करता हूँ की यह रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics जरुर पसंद आया होगा अगर आपको यह रे बंसवा काहें पियरी तोरी पाती लिरिक्स, Re Baswa Kahe Piyari Tori Pati Lyrics पसंद आया हो तो –

“कमेन्ट जरूर करें |”

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए   “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर F O L L O W करें |

और S U B S C R I B E करें मेरे y o u t u b e चैनल “sur sarita techknow-Youtube” “S U R  S A R I T A  T E C H K N O W” – You tube को |

P L E A S E   C O M M E N T और शेयर जरूर करें ||

धन्यवाद्
पवन शास्त्री ( सुर सरिता टेक्नो )

Thank you

Leave a Comment