Bajrang Baan Lyrics, हनुमान बजरंग बाण पाठ एवं महत्व

इस Post में आपको Bajrang Baan Lyrics, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स, हनुमान बजरंग बाण पाठ का हिंदी और English Lyrics भी दिया जा रहा है और उम्मीद करता हूँ कि Bajrang Baan Lyrics In Hindi, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स, हनुमान बजरंग बाण पाठ आपके लिए जरूर helpful साबित होगा |

Bajrang Baan Lyrics | जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स

Bajrang Baan Lyrics
Bajrang Baan Lyrics, हनुमान बजरंग बाण पाठ, जय हनुमंत संत हितकारी

Bajrang Baan Lyrics | हनुमान बजरंग बाण पाठ, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स

यहाँ Bajrang Baan Lyrics In Hindi, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स दिया गया है:-

बजरंग बाण लिरिक्स दोहा:-

निश्चय प्रेम प्रतीति ते,
बिनय करै सनमान |
तेहि के कारज सकल शुभ,
सिद्ध करै हनुमान ||

बजरंग बाण लिरिक्स चौपाई:-

जय हनुमंत संत हितकारी |
सुन लीजे प्रभु अरज हमारी ||
जन के काज बिलंब न कीजे |
आतुर दौरि महा सुख दीजे ||

जैसे कूदि सिंधु महिपारा |
सुरसा बदन पैठ बिस्तारा ||
आगे जाए लंकिनी रोका |
मारेहु लात गयी सुर लोका ||

जाय बिभीषन को सुख दीन्हा |
सीता निरखि परमपद लीन्हा ||
बाग उजारि सिंधु महँ बोरा |
अति आतुर जमकातर तोरा ||

अक्षय कुमार को मारि संहारा |
लूम लपेटि लंक को जारा ||
लाह समान लंक जरि गयी |
जय जय धुनि सुरपुर नभ भयी ||

अब बिलंब केहि कारन स्वामी |
कृपा करहु उर अंतरयामी ||
जय जय लखन प्रान के दाता |
आतुर होय दुख करहु निपाता ||

जय हनुमान जयति बल सागर |
सुर-समूह-समरथ भट-नागर ||
ओम हनु हनु हनु हनुमंत हठीले |
बैरिहि मारु बज्र की कीले ||

ॐ ह्नीं ह्नीं ह्नीं हनुमंत कपीसा |
ॐ हुं हुं हुं हनु अरि उर सीसा ||
जय अंजनि कुमार बलवंता |
शंकरसुवन बीर हनुमंता ||

बदन कराल काल-कुल घालक |
राम सहाय सदा प्रतिपालक ||
भूत, प्रेत, पिसाच निसाचर |
अग्नि बेताल काल मारी मर ||

इन्हें मारु, तोहि सपथ राम की |
राख नाथ मरजाद नाम की ||
सत्य होहु हरि सपथ पाइ के |
राम दूत धरु मारु धाइ के ||

जय जय जय हनुमंत अगाधा |
दुख पावत जन केहि अपराधा ||
पूजा जप तप नेम अचारा |
नहिं जानत कछु दास तुम्हारा ||

बन उपबन मग गिरि गृह माहीं |
तुम्हरे बल हौं डरपत नाहीं ||
जनकसुता हरि दास कहावो |
ताकी सपथ बिलंब न लावो ||

जै जै जै धुनि होत अकासा |
सुमिरत होय दुसह दुख नासा ||
चरन पकरि, कर जोरि मनावौं |
यहि औसर अब केहि गोहरावौं ||

उठु, उठु, चलु, तोहि राम दुहायी |
पायँ परौं, कर जोरि मनाई ||
ओम चं चं चं चं चपल चलंता |
ओम हनु हनु हनु हनु हनुमंता ||

ओम हं हं हाँक देत कपि चंचल |
ओम सं सं सहमि पराने खल-दल ||
अपने जन को तुरत उबारौ |
सुमिरत होय आनंद हमारौ ||

यह बजरंग-बाण जेहि मारै |
ताहि कहौ फिरि कवन उबारै ||
पाठ करै बजरंग-बाण की |
हनुमत रक्षा करै प्राण की ||

यह बजरंग बाण जो जापैं |
तासों भूत-प्रेत सब कापैं ||
धूप देय जो जपै हमेशा |
ताके तन नहिं रहै कलेशा ||

बजरंग बाण लिरिक्स दोहा:-

उर प्रतीति दृढ़, सरन होय,
पाठ करै धरि ध्यान |
बाधा सब हर करैं सब,
काम सफल हनुमान ||

|| Bajrang Baan Lyrics, हनुमान बजरंग बाण पाठ – हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स ||

इसे भी जानें:-

यहाँ Bajrang Baan Lyrics विडियो देखें:-

Bajrang Baan Lyrics, हनुमान बजरंग बाण पाठ, जय हनुमंत संत हितकारी


Bajrang Baan Lyrics, Jai Hanumant Sant Hitakari Lyrics

In this article, you are also being given the Hindi and English Lyrics of Bajrang Baan Lyrics, Jai Hanumant Sant Hitakari Lyrics and I hope that Bajrang Baan Lyrics, Jai Hanumant Sant Hitakari Lyrics In English will prove to be helpful for you.

Here I Gave You Bajrang Baan Lyrics, Jai Hanumant Sant Hitakari Lyric:-

Bajrang Baan Lyrics Doha:-

nishchay prem prateeti te,
binay karai sanamaan |
tehi ke kaaraj sakal shubh,
siddh karai hanumaan ||

Bajrang Baan Lyrics Chaupai:-

Jai Hanumant Sant Hitakari |
sun leeje prabhu araj hamaaree ||
jan ke kaaj bilamb na keeje |
aatur dauri maha sukh deeje ||

jaise koodi sindhu mahipaara |
surasa badan paith bistaara ||
aage jae lankinee roka |
maarehu laat gayee sur loka ||

jaay bibheeshan ko sukh deenha |
seeta nirakhi paramapad leenha ||
baag ujaari sindhu mahan bora |
ati aatur jamakaatar tora ||

akshay kumaar ko maari sanhaara |
loom lapeti lank ko jaara ||
laah samaan lank jari gayee |
jay jay dhuni surapur nabh bhayee ||

ab bilamb kehi kaaran svaamee |
krpa karahu ur antarayaamee ||
jay jay lakhan praan ke daata |
aatur hoy dukh karahu nipaata ||

jay hanumaan jayati bal saagar |
sur-samooh-samarath bhat-naagar ||
om hanu hanu hanu hanumant hatheele |
bairihi maaru bajr kee keele ||

om hneen hneen hneen hanumant kapeesa |
om hun hun hun hanu ari ur seesa ||
jay anjani kumaar balavanta |
shankarasuvan beer hanumanta ||

badan karaal kaal-kul ghaalak |
raam sahaay sada pratipaalak ||
bhoot, pret, pisaach nisaachar |
agni betaal kaal maaree mar ||

inhen maaru, tohi sapath raam kee |
raakh naath marajaad naam kee ||
saty hohu hari sapath pai ke |
raam doot dharu maaru dhai ke ||

jay jay jay hanumant agaadha |
dukh paavat jan kehi aparaadha ||
pooja jap tap nem achaara |
nahin jaanat kachhu daas tumhaara ||

ban upaban mag giri grh maaheen |
tumhare bal haun darapat naaheen ||
janakasuta hari daas kahaavo |
taakee sapath bilamb na laavo ||

jai jai jai dhuni hot akaasa |
sumirat hoy dusah dukh naasa ||
charan pakari, kar jori manaavaun |
yahi ausar ab kehi goharaavaun ||

uthu, uthu, chalu, tohi raam duhaayee |
paayan paraun, kar jori manaee ||
om chan chan chan chan chapal chalanta |
om hanu hanu hanu hanu hanumanta ||

om han han haank det kapi chanchal |
om san san sahami paraane khal-dal ||
apane jan ko turat ubaarau |
sumirat hoy aanand hamaarau ||

yah bajarang-baan jehi maarai |
taahi kahau phiri kavan ubaarai ||
paath karai bajarang-baan kee |
hanumat raksha karai praan kee ||

yah bajarang baan jo jaapain |
taason bhoot-pret sab kaapain ||
dhoop dey jo japai hamesha |
taake tan nahin rahai kalesha ||

Bajrang Baan Lyrics Doha:-

ur prateeti drdh, saran hoy,
paath karai dhari dhyaan |
baadha sab har karain sab,
kaam saphal hanumaan ||

Bajrang Baan Lyrics

Bajrang Baan Lyrics, हनुमान बजरंग बाण पाठ, जय हनुमंत संत हितकारी


हनुमान बजरंग बाण महत्व

बजरंग बाण पाठ से क्या लाभ है?

बजरंग बाण पाठ का मंगलवार एवं शनिवार को करने अद्वितीय लाभ मिलता है, बजरंग बाण के प्रतिदिन पाठ से मन को शांति मिलती हैं। किसी भी प्रकार के भय से मुक्ति मिलती है एवं शत्रु पर विजय की प्राप्ति होती है। बजरंग बाण का नियमित पाठ करने से आत्म-विश्वास व साहस में वृद्धि होती है।

बजरंग बाण पाठ करने का क्या नियम है?

बजरंग बाण का पाठ वैसे तो प्रतिदिन करना चाहिए फिर भी मंगलवार या शनिवार के दिन स्नान आदि करके पूजा स्थल पर हनुमान जी की मूर्ति या चित्र स्थापित करें और स्वयं के बैठने के लिए लाल रंग के आसन का प्रयोग करें, सर्वप्रथम पुष्प अक्षत लेकर हनुमान जी की वंदना करें, धूप,दीप आदि करें और फिर पाठ सम्पूर्ण करने के बाद हनुमान जी को भोग लगाकर आरती करें|

बजरंग बाण के रचयिता कौन हैं?

बजरंग बाण के रचयिता गोस्वामी तूलसीदास जी हैं|

बजरंग बाण में कितनी चौपाइयां और दोहे हैं ?

बजरंग बाण में 32 चौपाइयां और 2 दोहे हैं|

क्या स्त्रियों को बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए?

शास्त्रों में ऐसा कहा गया है कि महिलाये हनुमान जी की पूजा व बजरंग बाण का पाठ पूरी तरह से वर्जित तो नहीं हैं, लेकिन कुछ नियमों का पालन करना पड़ता है जैसे : महिलाएं हनुमान जी को जनेऊ, सिन्दूर, आसन, चरण पादुकाएं, चोला, कपड़ों का जोड़ा व पंचामृत स्नान अर्पित नहीं कर सकती हैं, तथा लम्बे अनुष्ठान वर्जित है |

I Hope You Like Bajrang Baan Lyrics, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स, हनुमान बजरंग बाण पाठ

“www.sursaritatechknow.com” for information related to Hindi notation of raga bandish, Hindi notation of film songs, Hindi notation of superhit hymns, Hindi notation of folk songs, interpretations related to Hindustani music, reviews of musical instruments, and technology. Must follow To My Website “S U R S A R I T A T E C H K N O W”

Thank you

आशा करता हूँ की यह Bajrang Baan Lyrics, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स, हनुमान बजरंग बाण पाठ जरुर पसंद आया होगा अगर आपको यह Bajrang Baan Lyrics, जय हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स, हनुमान बजरंग बाण पाठ पसंद आया हो तो – “कमेन्ट जरूर करें |”

|| Bajrang Baan Lyrics | हनुमान बजरंग बाण पाठ – हनुमंत संत हितकारी लिरिक्स ||

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए   “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर F O L L O W करें |

और S U B S C R I B E करें मेरे y o u t u b e चैनल “sur sarita techknow-Youtube” “S U R  S A R I T A  T E C H K N O W” – You tube को |

P L E A S E   C O M M E N T और शेयर जरूर करें ||

धन्यवाद्
पवन शास्त्री ( सुर सरिता टेक्नो )

Leave a Comment