Jara Itna Bata De Kanha Lyrics | जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ

यहाँ Jara Itna Bata De Kanha Lyrics जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ लिरिक्स और इसका हिंदी में नोटेशन भी दिया जा रहा है | Jara Itna Bata De Kanha Lyrics बहुत ही प्यारा भजन है |

जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ लिरिक्स | Jara Itna Bata De Kanha Lyrics

इस पोस्ट में हम Jara Itna Bata De Kanha Lyrics का पूरा लिरिक्स और पूरा नोटेशन दे रहे हैं, और आशा करता हू कि यह Jara Itna Bata De Kanha Lyrics, जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ लिरिक्स आपको बहुत पसंद आएगा |

Jara Itna Bata De Kanha Lyrics | जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ

Jara Itna Bata De Kanha Lyrics

यहाँ Jara Itna Bata De Kanha Lyrics, जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ लिरिक्स  दिया गया है:-

जरा इतना बता दे कान्हा,
तेरा रंग काला क्यों |
तु काला होकर भी,
जग से निराला क्यों ||

मैंने काली रात में जन्म लिया,
और काली गाय का दूध पीया |
मेरी कमली भी काली है,
इसी लिए काला हूँ ||

जरा इतना बता दे कान्हा,
तेरा रंग काला क्यों |
तु काला होकर भी,
जग से निराला क्यों ||

मैंने काले नाग पर नाच किया,
और काले नाग को नाथ लिया |
नागों का रंग काला,
इसी लिए काला हूँ ||

जरा इतना बता दे कान्हा,
तेरा रंग काला क्यों |
तु काला होकर भी,
जग से निराला क्यों ||

सखी रोज़ घर में बुलाती है,
और माखन बहुत खिलाती है |
सखिओं का दिल काला,
इसी लिए काला हूँ ||

जरा इतना बता दे कान्हा,
तेरा रंग काला क्यों |
तु काला होकर भी,
जग से निराला क्यों ||

सखी नयनों में कजरा लगाती है,
और पलकों पे मुझे बिठाती है |
कजरे का रंग काला,
इसी लिए काला हूँ ||

जरा इतना बता दे कान्हा,
तेरा रंग काला क्यों |
तु काला होकर भी,
जग से निराला क्यों ||

सावन में बिजली कड़कती है,
बादल भी बहुत बरसतें है |
बादल का रंग काला,
इसी लिए काला हूँ ||

जरा इतना बता दे कान्हा,
तेरा रंग काला क्यों |
तु काला होकर भी,
जग से निराला क्यों ||

इस Jara Itna Bata De Kanha Lyrics विडियो देखें:-

जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ सरगम नोट्स, Jara Itna Bata De Kanha Sargam Notes

  • जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ सरगम नोट्स, Jara Itna Bata De Kanha Sargam Notes में लगाने वाले स्वर इस प्रकार से हैं –
  • मंद्र सप्तक में प और ध और मध्य सप्तक में सा, रे, ग, म, प और ध |
  • इस भजन में सभी स्वर शुद्ध प्रयोग किये गए है इसलिए यह भजन थाट बिलावल पर आधारित है |
  • अगर आपको राग बिलावल का पूरा परिचय, बंदिश का नोटेशन, स्वर विस्तार और आलाप-तान भी चाहिए तो नीचे दिए गए link पर क्लिक करें:-

https://www.sursaritatechknow.com/2020/10/raag-bilawal.html

यहाँ Jara Itna Bata De Kanha Sargam Notes दिया गया है :-

जरा इत नाs बता दे काssन्हा
सासा .प.ध .धसा सासा रे गमगरे
तेरा रंग काला क्यों
गग रेरे गरे सा

तु काs लाs होs करs भी
सा .प.ध .धसा सारे गमग रे
जग से निराला क्यों
गग रे रेगरे सा

मैंने काs लीs राsत में जनम लिया,
पप पध पम गरेरे ग मगरे सासा
और काs लीs गाsय का दूsध पीया
पप पध पम गरेरे ग मगरे सासा

मेरी कम लीs भी काs लीss है
सासा .प.ध .धसा सा सारे गमग रे
इसी लिए काला हूँ
गग रेरे गरे सा

जरा इत नाs बता दे काssन्हा
सासा .प.ध .धसा सासा रे गमगरे
तेरा रंग काला क्यों
गग रेरे गरे सा

तु काs लाs होs करs भी
सा .प.ध .धसा सारे गमग रे
जग से निराला क्यों
गग रे रेगरे सा

मैंने काs लेs नाsग पर नाsच किया
पप पध पम गरेरे ग मगरे सासा
और काs लेs नाsग को नाsथ लिया
पप पध पम गरेरे ग मगरे सासा

नाs गोंs ss का रंग काsलाs
सासा .प.ध .धसा सा सारे गमगरे
इसी लिए काला हूँ
गग रेरे गरे सा

जरा इत नाs बता दे काssन्हा
सासा .प.ध .धसा सासा रे गमगरे
तेरा रंग काला क्यों
गग रेरे गरे सा

तु काs लाs होs करs भी
सा .प.ध .धसा सारे गमग रे
जग से निराला क्यों
गग रे रेगरे सा

सखी रोs ज़s घरs में बुलाती हैs,
पप पध पम गरेरे ग मगरे सासा
और माs खन बहुत खिलाsती हैs
पप पध पम गरेरे गमगरे सासा

सखि ओंs ss का दिल काsलाs
सासा .प.ध .धसा सा सारे गमगरे
इसी लिए काला हूँ
गग रेरे गरे सा

जरा इत नाs बता दे काssन्हा
सासा .प.ध .धसा सासा रे गमगरे
तेरा रंग काला क्यों
गग रेरे गरे सा

तु काs लाs होs करs भी
सा .प.ध .धसा सारे गमग रे
जग से निराला क्यों
गग रे रेगरे सा

सखी नय नोंs में कजरा लगाsती है,
पप पध पम ग रेरेग मगरेसा सा
और पल कोंs पे मुझेs बिठाsती है
पप पध पम ग रेरेग मगरेसा सा

कजरे का ss रंsग काssला,
सासा .प.ध .धसा सासारे गमगरे
इसी लिए काला हूँ
गग रेरे गरे सा

जरा इत नाs बता दे काssन्हा
सासा .प.ध .धसा सासा रे गमगरे
तेरा रंग काला क्यों
गग रेरे गरे सा

तु काs लाs होs करs भी
सा .प.ध .धसा सारे गमग रे
जग से निराला क्यों
गग रे रेगरे सा

सावन में बिजली कड़कती है,
बादल भी बहुत बरसतें है |

बादल का ss रंsग काsलाs,
सासा .प.ध .धसा सासारे गमगरे
इसी लिए काला हूँ
गग रेरे गरे सा

जरा इत नाs बता दे काssन्हा
सासा .प.ध .धसा सासा रे गमगरे
तेरा रंग काला क्यों
गग रेरे गरे सा

तु काs लाs होs करs भी
सा .प.ध .धसा सारे गमग रे
जग से निराला क्यों
गग रे रेगरे सा

आशा करता हु कि यह जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ लिरिक्स, Jara Itna Bata De Kanha Lyrics अच्छा लगा होगा अगर आपको जरा इतना बता दे कान्हा तेरा रंग काला क्यूँ लिरिक्स, Jara Itna Bata De Kanha Lyrics अच्छा लगा तो –

 

कृपया कंमेंट जरूर करें
 ऐसे ही  फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें | 
और s u b s c r i b e करें मेरे youtube चैनल sur sarita techknow को |
धन्यवाद्
-पवन शास्त्री, Sur Sarita Techknow

Leave a Comment