Sukh karta Dukh harta Lyrics And Sargam Notes

इस पोस्ट में जय देव जय देव जय मंगल मूर्ति लिरिक्स, Ganesh Ji Ki Aarti Sukh karta Dukh harta Lyrics और इसका सरगम नोट्स भी दिया गया है |

Sukh karta Dukh harta Lyrics And Sargam Notes, सुखकरता दुखहर्ता वार्ता विघ्नाची लिरिक्स

यहाँ सुख करता दुखहर्ता, वार्ता विघ्नाची लिरिक्स और नोटेशन दिया जा रहा है | जय देव जय देव जय मंगल मूर्ति लिरिक्स, Sukh karta Dukh harta Lyrics बहुत ही प्यारा भजन है |
  • इस पोस्ट में हम आपको यहाँ जय देव जय देव जय मंगल मूर्ति लिरिक्स और पूरा नोटेशन दे रहे हैं, और आशा करता हैं कि यह Ganesh Ji Ki Aarti Sukh karta Dukh harta Lyrics And Notation, आपको बहुत पसंद आएगा |

Sukh karta Dukh harta Lyrics In Hindi

यहाँ जय देव जय देव जय मंगल मूर्ति लिरिक्स ( सुख करता दुखहर्ता, वार्ता विघ्नाची लिरिक्स ) Sukh karta Dukh harta Lyrics दिया गया है –

सुख करता दुखहर्ता, वार्ता विघ्नाची

नूर्वी पूर्वी प्रेम कृपा जयाची
सर्वांगी सुन्दर उटी शेंदु राची
कंठी झलके माल मुकताफळांची
 
जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकमाना पूर्ति
जय देव जय देव
 
रत्नखचित फरा तुझ गौरीकुमरा
चंदनाची उटी कुमकुम केशरा
हीरे जडित मुकुट शोभतो बरा
रुन्झुनती नूपुरे चरनी घागरिया
 
जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकमाना पूर्ति
जय देव जय देव
 
लम्बोदर पीताम्बर फनिवर वंदना
सरल सोंड वक्रतुंडा त्रिनयना
दास रामाचा वाट पाहे सदना
संकटी पावावे निर्वाणी रक्षावे सुरवर वंदना
 
जय देव जय देव, जय मंगल मूर्ति
दर्शनमात्रे मनःकमाना पूर्ति
जय देव जय देव
 
शेंदुर लाल चढायो अच्छा गजमुख को
दोन्दिल लाल बिराजे सूत गौरिहर को
हाथ लिए गुड लड्डू साई सुरवर को
महिमा कहे ना जाय लागत हूँ पद को
 
जय जय जय जय जय
जय जय जी गणराज विद्यासुखदाता
धन्य तुम्हारो दर्शन मेरा मत रमता
जय देव जय देव
यहाँ Sukh karta Dukh harta Lyrics विडियो देखें –

 पुनः Sukh karta Dukh harta Lyrics जारी …

अष्ट सिधि दासी संकट को बैरी
विघन विनाशन मंगल मूरत अधिकारी
कोटि सूरज प्रकाश ऐसे छबी तेरी
गंडस्थल मद्मस्तक झूल शशि बहरी
 
जय जय जय जय जय
जय जय जी गणराज विद्यासुखदाता
धन्य तुम्हारो दर्शन मेरा मत रमता
जय देव जय देव
 
भावभगत से कोई शरणागत आवे
संतति संपत्ति सबही भरपूर पावे
ऐसे तुम महाराज मोको अति भावे
गोसावीनंदन निशिदिन गुण गावे
 
जय जय जी गणराज विद्यासुखदाता
धन्य तुम्हारो दर्शन मेरा मत रमता

जय देव जय देव


Ganesh Ji Ki Aarti Sukh karta Dukh harta Sargam Notes

इस भजन Sukh karta Dukh harta Lyrics में लगने वाले स्वर हैं –
सा, रे, ग, म. प और ध तथा नि का प्रयोग हुआ है |

  • इस Ganesh Ji Ki Aarti Sukh karta Dukh harta Sargam Notes भजन में प्रयोग किये गए सभी स्वर शुद्ध हैं |  शुद्ध स्वरों के थाट को बिलावल थाट एवं इसके राग को राग बिलावल कहा जाता है तो –
  • राग बिलावल की बंदिश नोटेशन के साथ एवं इसका स्वर विस्तार तथा आलाप और तान के लिए नीचे क्लिक करें –

https://www.sursaritatechknow.com/2020/10/raag-bilawal.html

सुख   कर्ता        दुख   हर्ता
सासा  म-म-    मम    म- म
वार्ता   विघ्नाची
मप     प-मग

नुरवी  पुरवी  प्रेम  कृपा जयाची
मप    धनि  धप  मप  गमम
सर्वांगी   सुंदर | उटी  शेंदुराची
सा-मम  ममम | मम  प-पमग

कंठी झलके  माल  | मुक्ता फणाचीss
मप  धनि   धप  | मप   मपध– 
जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म


जय देव,  जय  देव,
सा-  म-  मम-  म
जय   मंगल  मूर्ती
म    पप    मग

दर्शन मात्रे   मन  कामना  पुर्तीss
मप  धनि   धप   मप    मपध–
जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म

सुख कर्ता दुःख हर्ता सरगम नोट्स


रत्न खचित  फरा  | तूज गौरीकुमरा
सासा म-म-  मम  | मम  मपपमग
चंदनाची  उटी कुंकुम केशरा
मपधनि  धप  मप  गमम

हिरेजड़ित मुकुट | शोभतो बरा
सा-मम  ममम | ममप- पमग
रुणझुणती नूपुरे | चरणी घागरीया
मपधनि   धप  | मप   मपध– 


जय देव,  जय  देव,
सा-  म-  मम-  म
जय   मंगल  मूर्ती
म    पप    मग

दर्शन मात्रे   मन  कामना  पुर्तीss
मप  धनि   धप   मप    मपध–
जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म


लंबोदर पीतांबर | फणीवर बंधना
सासाम- म-मम | मममप पमग
सरणs    सोंड  | वक्रतुण्ड त्रिनयना
मपधनि  धप  |  मप  गमम
दास रामाचा वाट | पा-हे-  सदना
सा-  ममम मम | ममप-  पमग


संकटी  पावावें,  | निर्वाणी   रक्षावे,  सुरवरवंदना
मपध   निधप  | मपधनि   धपमप   मपध–
जय देव,  जय  देव,
सा-  म-  मम-  म

जय   मंगल  मूर्ती
म    पप    मग

दर्शन मात्रे   मन  कामना  पुर्तीss
मप  धनि   धप   मप    मपध–
जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म


शेंदुर लाल चढायो |  अच्छा गजमुख को
सासा म-म ममम |  मम   मपपम  ग
दोन्दिल लाल बिराजे | सूत गौरिहर को
 मप   धनि धप  |  मप  गमम म


हाथ  लिए गुड  लड्डू | साई सुरवर को
सासा म-   म-  मम | मम मपपम ग
महिमा कहे ना जाय | लागत  हूँ पद को
 मप  ध  नि धप  |  मप  ग  मम म


जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म

Ganesh Ji ki aarti Jai dev Jai dev notation


जय जय   जी  गणराज विद्यासुखदाता
सासा म-   म-  मममम   मपपमग
धन्य तुम्हारो दर्शन | मेरा  मत रमता
 मप   धनि धप  |  मप  गम मम


जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म


अष्ट सिधि दासी संकट को बैरी
सासा म-   म-  मममम   मपपमग
विघन विनाशन | मंगल मूरत अधिकारी
मप   धनिधप  | मम  मप  गममम

कोटि सूरज प्रकाश | ऐसे  छबी तेsरी
सासा म-म-  मम | मम  मप पमग
गंडस्थल मद्मस्तक | झूल शशि बहरी
मपधनि  धपम   | मम  पग ममम


जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म

जय जय जी  गणराज विद्यासुखदाता
सासा म- म-  मममम   मपपमग
धन्य तुम्हारो दर्शन | मेरा मत रमता
मप   धनि  धपम | मम पग ममम


जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म


भावभगत  सेs   कोई | शरणागत आवेs
सासाम-   म-  मम |  मममप  पमग
संतति संपत्ति सबही | भरपूर  पावेs
मप   धनि  धपम | ममपग  ममम
ऐसे  तुम  महाराज | मोको अति भावे
सासा म-  म-ममम | मम  पप  मग

गोसावीनंदन निशिदिन | गुण गावेs
मपधनिधप  म-मम   | पग ममम
जय जय जी  गणराज विद्यासुखदाता
सासा म- म-  मममम   मपपमग

धन्य तुम्हारो दर्शन | मेरा मत रमता
मप   धनि  धपम | मम पग ममम


जय देव, जय   देव
 प- म-  मम-   म

आशा करता हूँ कि आपको यह Ganesh Ji Ki Aarti Sukh karta Dukh harta Lyrics जरूर पसंद आया होगा |

Hope you have liked this Sukh karta Dukh harta Lyrics And Sargam Notes.

“plz कमेन्ट जरूर करें |”

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें |

और subscribe करें मेरे youtube चैनल sur sarita techknow-Youtube को |

Please Comment और शेयर जरूर करें ||

धन्यवाद्
पवन शास्त्री

Leave a Comment