Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता, को दीपावली व लक्ष्मी पूजन एवं धन-धान्य की समृद्धि तथा लक्ष्मी जी के अनुष्ठानो में ज्यादातर गई जाती है |

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता
Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

 

ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता ।

 

तुमको निशिदिन सेवत, हरि विष्णु विधाता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग-माता।
सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
दुर्गा रुप निरंजनी, सुख सम्पत्ति दाता।
जो कोई तुमको ध्यावत, ऋद्धि-सिद्धि धन पाता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
तुम पाताल-निवासिनि, तुम ही शुभदाता।
कर्म-प्रभाव-प्रकाशिनी, भवनिधि की त्राता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
जिस घर में तुम रहतीं, सब सद्गुण आता।
सब सम्भव हो जाता, मन नहीं घबराता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
तुम बिन यज्ञ न होते, वस्त्र न कोई पाता।
खान-पान का वैभव, सब तुमसे आता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
शुभ-गुण मन्दिर सुन्दर, क्षीरोदधि-जाता।
रत्न चतुर्दश तुम बिन, कोई नहीं पाता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 
महालक्ष्मीजी की आरती, जो कोई जन गाता।
उर आनन्द समाता, पाप उतर जाता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता ।
तुमको निशिदिन सेवत, हरि विष्णु विधाता॥
 
ॐ जय लक्ष्मी माता॥
 

लक्ष्मी जी की मुर्ति व लक्ष्मी जी से संबंधित वस्तुएं स्पेशल डिस्काउंट के साथ कम से कम कीमत में खरीदने के लिए नीचे क्लिक करें :-

  1. लक्ष्मी गणेश की मूर्ति
  2. लक्ष्मी माता श्रृंगार सेट
  3. दीपावली सजावट के सामान
  4. लक्ष्मी Locket
  5. लक्ष्मी यंत्र
  6. Devotional Music Box
  7. Devotional Gift Set
  8. पूजन सामग्री

Lakshmi mata ki aarti Sargam Notes

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

 

माता जी की यह आरती lakshmi ji ki aarti lyrics In Hindi, lakshmi ji ki aarti Sargam Notes विश्व प्रसिद्ध आरतियों में से एक है | ॐ जय लक्ष्मी माता आरती से माता जी को प्रसन्न किया जाता है | Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,
सा  सा- सासा.नि सारे-
 
अथवा –
 
ओम जय  लक्ष्मीs     माताs ।
सा  सासा  सासासा  .निसारे
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
मैया जय लक्ष्मीss   माsता,
रेग  मs  पपधपम   गरे-
तुमको  निशिदिन सेवत,
 रेगरे  गममग   रेगरेसा
 
हरि  विष्णुs   विधाता
सासा रेsगरे  सा.नि.ध
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
उमा  रमाss,   ब्रह्माsणी,
रे-सा *निरेसा *निरेसासा-
 
अथवा –
 
उमाs     रमाss,    ब्रह्माsणी,
रेसासा .निरेसासा .निरेसासा-
तुम हीs  जग माsता।
पप मम  गरे सारे-
मैया तुम हीs  जग माsता।
पप  पध पम  गरे सारे-
 
सूर्य चन्द्रsमाs   ध्यावत,
रेग रेगगममग  रेगरेसा

नारद ऋषि   गाsता
सा-रे  रेगरे  सा.नि.ध
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
दुर्गाs   रुs प   निरंजनी,
रे-सा  .निरेसा .निरेसासा-
 
अथवा –
 
दुर्गाs   रुs s प   निरंजनी,
रेसासा .निरेसासा .निरेसासा-
सुख सम्पत्ति दाsता
पप  ममगरे  सारे-
मैया सुख सम्पत्ति दाsता
पप  पध  पमगरे  सारे-
 
जो कोsई  तुमको ध्यावत,
रेग रेगग ममग  रेगरेसा
ऋद्धि  सिद्धि धन  पाsता
सा-    रेरे  गरे  सा.नि.ध
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
 
तुमs   पाताल निवासिनि,
रे-सा .निरेसा .निरेसासा-
 
अथवा –
 
तुमs    पाs ताल  निवासिनि,
रेसासा .निरेसासा .निरेसासा-
तुम हीs  शुभदाता
पप मम  गरेसारे-
मैया तुम हीs   शुभदाता
पप  पध पम  गरेसारे-
 
कर्म प्रभाs s व प्रकाशिनी,
रेग रेगगमम   गरेगरेसा
भवनिधि की  त्राs s ता
सा-रेरे   गरे  सा.नि.ध

ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
 
जिस  घर  में तुम  रहतीं,
रे-सा .निरे सा .निरे सासा-
 
अथवा –
 
जिसs    घर  में  तुम  रहतीं,
रेसासा .निरे सा  सा.नि रेसासा
सब सद्गुण आता
पप  ममगरे सारे-
मैया सब सद्गुण आता
पप  पध पमगरे  सारे-
 
सब सम्भवs  होs  जाता,
रेग रेगगमम गरे गरेसा
मन नहींs  घबराता
सा- रेरेग  रेसा.नि.ध
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
 
तुमs  बिन यज्ञ  न होsते,
रे-सा .निरे सा.नि रे सासा-
 
अथवा –
 
तुमs    बिन यज्ञ   न  होsते,
रेसासा .निरे सासा  .नि रेसासा
वस्त्र नs  कोई पाता
पप  मम गरे सारे-
मैया वस्त्र नs  कोई पाता
पप  पध पम  गरे  सारे-
 
खान-पान का वैभव,
रेग रेगगमम गरे गरेसा
सब तुमसे आss ताs
सा- रेरेग  रेसा.नि.ध
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
 
शुभs  गुण मन्दिर सुन्दर,
रे-सा .निरे सा.निरे सासा-
 
अथवा –
 
शुभs    गुण मन्दिर   सुन्दर,
रेसासा .निरे सासा.नि रेसासा  
क्षीरोs s   दधि  जाsता
पपमम   गरे   सारे-
मैया क्षीरोs s   दधि  जाsता
पप  पध पम  गरे  सारे-
 
रs त्न चतुरदश तुम बिन,
रेगरे   गगमम गरे गरेसा
कोई  नहींs  पाs ताs
सा-  रेरेग  रेसा.नि.ध
 
महालक्ष्मीजी कीs   आरती,
रे-सा .निरे  सा.नि रेसासा-
 
अथवा –
 
महालक्ष्मीजीs  कीs   आरती,
रेसासा.निरेसा सा.नि रेसासा
जोs  कोई जन गाsता
पप  मम गरे  सारे-
मैया जोs  कोई जन गाsता
पप  पध  पम  गरे  सारे-
उरs  आनन्द समाs ताs,
रेगरे गगमम गरेगरेसा
 
पाप उतर  जाs ताs
सा- रेरेग  रेसा.नि.ध
 
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे-
 
अथवा –
 
ओम जय  लक्ष्मीs     माताs ।
सा  सासा  सासासा  .निसारे
ओम जय लक्ष्मीs   माsता,  
सा  सा- सासा.नि सारे- ||

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता

आशा करता हूँ कि आपको यह Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता जरूर पसंद आया होगा | Hope you have liked this Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स – ओम जय लक्ष्मी माता
कृपया कंमेंट जरूर करें
आशा करता हूँ की यह जरुर पसंद आया होगा अगर आपको यह Laxmi Ji Ki Aarti Lyrics, लक्ष्मी जी की आरती लिरिक्स पसंद आया हो तो – “कमेन्ट जरूर करें |” बॉलीवुड सोंग नोटेशन, सुपरहिट भजनों नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं और म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें |
छोटे रसोई उपकरणों, इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स, जैसे मिक्सर ब्लेंडर, कूकर, ओवन, फ्रिज, लैपटॉप, मोबाइल फोन और टेलीविजन आदि सटीक तुलनात्मक विश्लेषण के लिए उचित कीमत आदि जानने के लिए क्लिक करें – TrustWelly.com धन्यवाद् पवन शास्त्री ( सुर सरिता भजन )
-पवन शास्त्री

Leave a Comment