Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics, दुर्गा जी की आरती – जय अम्बे गौरी लिरिक्स,

यहाँ पर आपको जय अम्बे गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics, दिया जा रहा है और आशा करता हू कि यह जय अम्बे गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics, आपको बहुत पसंद आएगा |

जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स – Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics | Ambe Mata Ki Aarti Lyrics

आरती- जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Lyrics
जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics
जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics
यहाँ जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics दिया गया है-
जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी
तुमको निशिदिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवरी ||जय अम्बे गौरी ||
जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी
तुमको निशिदिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवरी ||जय अम्बे गौरी ||
 
मांग सिंदूर बिराजत टीको मृगमद को।
उज्ज्वल से दोउ नैना चंद्रबदन नीको ||जय अम्बे गौरी ||
 
कनक समान कलेवर रक्ताम्बर राजै।
रक्तपुष्प गल माला कंठन पर साजै ||जय अम्बे गौरी ||
केहरि वाहन राजत खड्ग खप्परधारी।
सुर-नर मुनिजन सेवत तिनके दुःखहारी ||जय अम्बे गौरी ||
 
कानन कुण्डल शोभित नासाग्रे मोती।
कोटिक चंद्र दिवाकर राजत समज्योति ||जय अम्बे गौरी ||
शुम्भ निशुम्भ बिडारे महिषासुर घाती।
धूम्र विलोचन नैना निशिदिन मदमाती ||जय अम्बे गौरी ||
 
चौंसठ योगिनि मंगल गावैं नृत्य करत भैरू।
बाजत ताल मृदंगा अरू बाजत डमरू ||जय अम्बे गौरी ||
 
भुजा चार अति शोभित खड्ग खप्परधारी।
मनवांछित फल पावत सेवत नर नारी ||जय अम्बे गौरी ||
कंचन थाल विराजत अगर कपूर बाती।
श्री मालकेतु में राजत कोटि रतन ज्योति ||जय अम्बे गौरी ||
श्री अम्बेजी की आरती जो कोई नर गावै।
कहत शिवानंद स्वामी सुख-सम्पत्ति पावै ||
 
जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी
तुमको निशिदिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवरी ||जय अम्बे गौरी ||Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics

जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics


Jai Ambe Gauri Aarti Sargam Notation

  • माता जी की यह आरती विश्व प्रसिद्ध आरतियों में से एक है | किसी भी शुभ कार्यक्रम में आदि अनेको अनुष्ठानो, पूजन समारोह एवं अनुष्ठान गाया जाता है |जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Lyrics


यहाँ Jai Ambe Gauri aarti Lyrics And Sargam Notes दिया गया है एवं इसमें लगने वाले स्वर –

  • इस आरती में सभी शुद्ध स्वरों का प्रयोग किया गया है | शुद्ध स्वरों के थाट को बिलावल थाट एवं इसके राग को राग बिलावल कहा जाता है तो –
    राग बिलावल की बंदिश नोटेशन के साथ एवं इसका स्वर विस्तार तथा आलाप और तान के लिए नीचे क्लिक करें –

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs
रेग   म-  पप  धपमगरे
मैया  जय मंगल मूरsतीs

रेगरे   गममग  रेगरेसा
तुमको निशिदिन ध्यावत
सासा रे-गरे सा.नि.ध-
हरि ब्रह्मा  शिव री

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा .निरे-सा .निरेसासा-
मांग  सिंदूsर  बिराsजत
पप   ममग रेसारे-
टीको मृगमद कोss

रेगरेग  गम  मग  रेगरेसा
उज्ज्वल सेs   दोउ  नैsनाs
सा-रेरेगरे  सा.नि.ध
चंद्रबदsन  नीsको 

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs
रे-सा  .निरे-सा .निरेसासा-
कनक  समान  कलेsवरs

पपममग रेसारे-
रक्ताम्बर राजै।
रेगरेगगम  मग  रेगरेसा
रक्तपुष्प   गल  माsलाs

सा-रेरे गरे  सा.नि.ध
कंठन पर   साsजै

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा .निरे-सा .निरेसासा-
केहरि वाहन   राsजतs
पपम  मग   रेसारे-
खड्ग खप्पर  धाsरीs

जय अम्बे गौरी आरती नोटेशन

रेग   रेग गममग   रेगरेसा
सुर   नर मुनिजन  सेsवत
सा-रेरे  गरेसा.नि.ध
तिनके  दुःखहारी

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा  .निरे-सा .निरेसासा-
कानन कुण्डल  शोsभितs
पपममग   रेसारे-
नाsसाग्रे   मोsतीs

रेगरेग   गम मगरेगरेसा
कोsटिक चंद्र  दिवाsकरs
सा-रेरे गरेसा.नि.ध
राजत समज्योति

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा  .निरे-सा .निरेसासा-
शुम्भ  निशुम्भ बिडाsरेs
पपममग   रेसारे-
महिषासुर  घाsतीs

रेगरे गगममग रेगरेसा
धूम्र विलोचन  नैsनाs
सा-रेरेगरे  सा.नि.ध
निशिदिन मदमाती

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा  .निरे-सा .निरेसासा-
चौंसठ योगिनि  गाssवैंs
पपम  मग रेसारे-
नृत्य करत भैsरूs

रेगरेग गममग रेगरेसा
बाजत ताssल मृदंगाs

सा-   रेरेगरे  सा.नि.ध
अरू  बाsजत  डमरूs

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा  .निरे-सा  .निरेसासा-
भुजा  चारअति  शोssभित
पपम  मगरे  सारे-
खड्ग खप्पर धाsरी

रेग  रेगगम मग रेगरेसा
मन वांछित  फल पावत
सा-रेरे  गरे  सा.नि.ध
सेवत  नर   नाsरी

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-सा  .निरे-सा  .निरेसासा-
कंचन  थाssल  विराजत
पपम  मगरे  सारे-
अगर कपूर  बाsती

 

रेग  रेगगम   मग  रेगरेसा
श्रीs  मालकेतु  मेंs   राsजत
सा-रे   रेगरे   सा.नि.ध
कोsटि  रतन   ज्योति

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs

रे-  सा.निरे- सा  .निरेसासा-
श्रीs अम्बेजी की   आssरती
पप  मम  गरे  सारे-

जोs कोई  नर  गाsवै
रेगरेग गममग रेगरेसा
कहत शिवानंद स्वाsमी
सा-   रेरेगरे   सा.नि.ध
सुख  सम्पत्ति पाsवै

सा   सा-  सासा  सा.निसारे
ओम जय  अम्बे   गौsरीs || जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Lyrics||

जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics
जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri aarti Lyrics

Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyaama Gauri Lyrics In English

Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyaama Gauri.
tumako nishidin dhyaavat hari brahma shivaree ||jay ambe gauree ||

Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyaama Gauri.
tumako nishidin dhyaavat hari brahma shivaree ||jay ambe gauree ||

maang sindoor biraajat teeko mrgamad ko.
ujjval se dou naina chandrabadan neeko ||jay ambe gauree ||

kanak samaan kalevar raktaambar raajai.
raktapushp gal maala kanthan par saajai ||jay ambe gauree ||

kehari vaahan raajat khadg khapparadhaaree.
sur-nar munijan sevat tinake duhkhahaaree ||jay ambe gauree ||

kaanan kundal shobhit naasaagre motee.
kotik chandr divaakar raajat samajyoti ||jay ambe gauree ||
shumbh nishumbh bidaare mahishaasur ghaatee.
dhoomr vilochan naina nishidin madamaatee ||jay ambe gauree ||

chaunsath yogini mangal gaavain nrty karat bhairoo.
baajat taal mrdanga aroo baajat damaroo ||jay ambe gauree ||

bhuja chaar ati shobhit khadg khapparadhaaree.
manavaanchhit phal paavat sevat nar naaree ||jay ambe gauree ||

kanchan thaal viraajat agar kapoor baatee.
shree maalaketu mein raajat koti ratan jyoti ||jay ambe gauree ||
shree ambejee kee aaratee jo koee nar gaavai.
kahat shivaanand svaamee sukh-sampatti paavai ||

Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyaama Gauri.
tumako nishidin dhyaavat hari brahma shivaree ||jay ambe gauree ||

Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyaama Gauri.
tumako nishidin dhyaavat hari brahma shivaree ||jay ambe gauree ||

जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri aarti Lyrics

उम्मीद है की यह जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics आपको जरूर पसंद आयान होगा और यदि आप जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी लिरिक्स, Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics से सम्बंधित कोई भी उचित सुझाव देना चाहते हैं तो-

“plz कमेन्ट जरूर करें |”

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें |

और subscribe करें मेरे youtube चैनल sur sarita techknow-Youtube को |

Please Comment और शेयर जरूर करें ||

धन्यवाद्
पवन शास्त्री

2 thoughts on “Jai Ambe Gauri Aarti Lyrics, दुर्गा जी की आरती – जय अम्बे गौरी लिरिक्स,”

Leave a Comment