Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation

Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Lyrics In Hindi, जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली लिरिक्स

इस आर्टिकल में आपको भजन Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Lyrics दिया जा रहा है | उम्मीद है यह Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation, आपको जरूर पसंद आएगा |

Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Lyrics

यहाँ जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली लिरिक्स, Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Lyrics दिया गया है |

स्थाई –
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली,
ले के शिव रूप आना गज़ब हो गया ।
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली,
ले के शिव रूप आना गज़ब हो गया ।
 
त्रेता युग में थे तुम आये, द्वार में भी,
तेरा कलयुग में आना गज़ब हो गया
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली,
ले के शिव रूप आना गज़ब हो गया ।
 
अंतरा –
बचपन की कहानी निराली बड़ी,
जब लगी भूख बजरंग मचलने लगे ।
 
फल समझ कर उड़े आप आकाश में,
तेरा सूरज को खाना गज़ब हो गया ||
 
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली,
ले के शिव रूप आना गज़ब हो गया ।
 
 
कूदे लंका में जब मच गयी खलबली,
मारे चुन चुन के असुरों को बजरंगबली ।
 
मार डाले अक्षय को पटक के वोही,
तेरा लंका जलाना गज़ब हो गया ॥
 
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली,
ले के शिव रूप आना गज़ब हो गया ।
 
 
आके शक्ति लगी जो लखन लाल को,
राम जी देख रोये लखन लाल को ।
 
ले के संजीवन बूटी पवन वेग से,
पूरा पर्वत ले आना गजब हो गया ||
 
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंगबली,
ले के शिव रूप आना गज़ब हो गया ।
 
जब विभीषण संग बैठे थे श्री राम जी,
और चरनो में हाजिर थे हनुमान जी |
सुन के ताना विभीषण का अंजनी के लाल,
फाड़ सीना दिखाना गजब हो गया ||
 
जय हो जय हो तुम्हारी जी बजरंग बली, 
लेके शिव रूप आना गजब हो गया ||

Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation

इस Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation में लगने वाले स्वर हैं –
इस Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation मंद्र सप्तक का कोमल नि और कोमल ध और मध्य सप्तक में सा, कोमल रे, कोमल ग, म, प, कोमल ध और कोमल नि फिर तार सप्तक का सां प्रयोग किये गयें है |

 

  • इस Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Lyrics में सभी रे, ग, ध और नि कोमल का ही प्रयोग किया गया है इसलिए कोमल स्वर को दर्शाने के लिए किसी भी चिन्ह का प्रयोग नहीं किया गया है |
    सभी रे, ग, ध और नि कोमल होने से यह राग भैरवी पर आधारित भजन है |

स्थाई –

जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम


जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम

त्रेता  युग  में   थे तुम  आये   द्वार  में  भी
पप   म   ग   रे  सा  .नि.ध   सासा  रे  सा
तेरा   कलयुग में  आना गज़ब  हो  गया
सासा  गरेरेरे   म  गग  पपम  म  मम


जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम

Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation अंतरा –

बचपन की  कहानी  निराली बड़ीs
मगम  म   ममम  मगरे   सा.नि.ध
जब  लगी   भूख  बजरंग मचलने  लगे
.ध   .धसा  सासा  गरेरे   पपमम  मम

फल  समझ कर  उड़े    आप   आकाश में
पप   मग   रे  सा.नि  .ध.ध   सासारे  सा
तेरा   सूरज को  खाना गज़ब  हो  गया
सासा  गरेरे  म  गग   पपम  म  मम

जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम


कूदे  लंका  में  जब  मच गयी खलबली
मग  मम   म  मम  म  गरे  सा.नि.ध
मारे   चुन चुन  के   असुरों  को बजरंगबली
.ध.ध  सा   सा  सा   गरेरे  प   पमममम


मार  डाले  अक्षय  को  पटक  के  वोही
पम   गरे  सा.नि  .ध  .धसा  सा  रेसा
तेरा   लंका  जलाना गज़ब  हो  गया
सासा  गरेरे  मगग   पपम  म  मम

जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम

आके शक्ति लगी जो लखन लाल को
म  गमम  म मम  म  ग   रेसा.नि.ध
राम जी देख रोये ss     लखन लाल को
.ध.ध  सासा सागरेरे  पपम  ममम

ले के संजीवन बूटी पवन वेग से
पप    मग   रे  सा.नि.ध  .धसा सा  रेसा
पूरा पर्वत   लेss   आना  गजब  हो   गया
सासा गरे   रेरेरे    मगग पपम   म    मम

Jai ho Jai Ho Tumhari Ji Bajrangbali Notation जारी है …



जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम


जब विभीषण संग बैठे थे श्री राम जी
म  गमम  म मम  म  ग   रेसा.नि.ध
और चरणों में हाजिर थे हनुमान  जी
.ध.ध  सासा सागरेरे  प  पममम  म

सुन के ताना विभीषण का अंजनी के लाल
पप    मग   रे  सा.नि.ध  .धसा सा  रेसा
और सीना दिखाना   गजब होs  गयाs
सासा गरे     रेरेरेम   गगप पम  ममम

जय हो जय  हो  तुम्हारी   जी बजरंगबली
प   म  ग   रे  सा.नि.ध  .ध  सासारेसा
ले  के  शिव  रूप आsना  गज़ब  हो  गया
सा सा  गरे   रेरे  मगग   पपम  म  मम

संबधित पोस्ट –

रागों की बंदिशों के हिंदी नोटेशन, फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें |

और subscribe करें मेरे youtube चैनल sur sarita techknow-Youtube को |

धन्यवाद्
-पवन शास्त्री (sursaritatechknow)

Leave a Comment