Raag Bilawal Parichay Bandish and Notation With Alap and Taan

Raag Bilawal Parichay Bandish Notation With Alap and Taan

Raag Bilawal Parichay Bandish शुद्ध, आरोह – अवरोह, पकड़ स्वर विस्तार सहित सम्पूर्ण परिचय और छोटा ख्याल मध्य लय – तीन ताल की बंदिश नोटेशन अलाप और तान सहित  –

Raga – Bilawal shudh, aroh – awaroh, pakad full introduction including sampurn parichay chhota khyal, middle rhythm – teen-tal bandish notation including alaap and tan.

Raag Bilawal Parichay Bandish

Raag Bilawal Parichay Bandish and Notation With Alap and Taan

इसे भी पढ़ें –

राग बिलावल परिचय

थाट – बिलावल |
गायन समय – प्रातः काल का प्रथम प्रहर |
वादी – ध |
संवादी – ग |
जाति – सम्पूर्ण – सम्पूर्ण |

राग बिलावल विशेषता

  • यह अपने थाट का आश्रय राग है |
  • इसमें शुद्ध स्वरों का प्रयोग करते हैं |
  • आरोह :- सा रे ग, म प, ध नि सां |
  • अवरोह :- सां नि ध प, म ग, रे सा |
  • पकड़ :- ग रे, ग प, ध s नि सां |
  • समय:- मध्य रात्रि |
  • वादी/संवादी स्वर :- ध/ग |

Raag Bilawal Swar Vistar –

सा s s s, सा .नि (सा), .नि .ध .नि .ध .प, .ध .नि (सा), सा रे ग, (सा) ग s रे सा, ग रे ग s s प, (प) म ग s म रे, ग प ध, ध नि सां s s (सां) गं रें (सां) s नि ध प, प म ग s म रे सा ||

Raag Bilawal Bandish Notation

 

तीन ताल                                                                (मध्य लय)

बोल –  
स्थाई-

अनुपम सुखद प्रभात भयो री,
श्याम दरश भये शीतल नयना |
अनुपम सुखद प्रभात भयो री,
श्याम दरश भये शीतल नयना ||

अंतरा –

सुन्दर बदन कमल दल लोचन,
कोटि मदन छबि लीजे सखीरी |
अनुपम सुखद प्रभात भयो री,
श्याम दरश भये शीतल नयना |

 

स्थाई –
सां सां ध प | म ग म रे | ग म प ग | म रे सा – |
अ  नु  प म | सु ख द प्र | भा s त भ | यो s री s |
0                  3               x       2
ग  –  म   रे | ग प नि नि | सां – रें सां | नि ध प – |
श्या s म  द | र  श  भ ये | शी s त ल | न य ना s |
0                  3                 x              2

अंतरा –
प  –  प  प  | सां सां सां सां | सां सां सां सां | सां रें सां सां |
सुं  s  द  र  |  ब  द  न  क  |  म  ल  द  ल  | लो  s  च  न |
0                  3                    x                   2

सां सां गं मं | गं रें सां नि | ध नि सां नि | ध प म ग |
को s टि  म | द न छ  वि | ली  s  जै  स | खी  s  री s |
0                  3                x                   2

 

Raag Bilawal Alap and Taan –

स्थाई अलाप 16 मात्रा –
1. सा s ग s | ग म रे s | ग प ध s | म ग म रे |
2. ग प s ध | नि ध प s | ध नि सां नि | ध प म ग |

अंतरा अलाप 16 मात्रा –
1. सा ग s ग | म रे s ग | म प ग म | प ध नि सां |

स्थाई तान 08 मात्रा –
1. सारे गप धनि सांरें | सांनि धप मग रेसा |
2. गप धनि सांरें सांनि | धप मग मरे साs |

अंतरा तान 08 मात्रा –
1. सांनि धप मग मरे  |  गप निनि सांs सांs|
2. गप धनि सांरें सांनि | धप गप धनि सांs |

Raag Bilawal Parichay Bandish

Raag Bilawal Parichay Bandish and Notation With Alap and Taan

“Here for your practice, along with Raag Bilawal Parichay, Bandish and Notation, some alap and taan has also been given. Hope you have liked it and now with the help of it you will have understood Rag Bilawal very well.

 

यहाँ पर आपके अभ्यास के लिए Raag Bilawal Parichay Bandish and Notation के साथ – साथ कुछ आलाप और तान भी दिया गया है | उम्मीद है आपको जरोर पसंद आया होगा और अब आप इसकी मदद से राग बिलावल को अच्छे से समझ गए होंगे |

To subscribe to many more ragas like this, notation, Lakshan geet, alap, taan and complete introduction, please subscribe and follow Sur Sarita Techknow. Here the Lakshan geet of Raga Bilawal is not given, if you need it, you can comment and request it, I will also give the Lakshan geet of Raga Bilawal.
कृपया कंमेंट जरूर करें
 ऐसे ही  फ़िल्मी गानों के हिंदी नोटेशन, सुपरहिट भजनों के हिंदी नोटेशन, लोकगीतों के हिंदी नोटेशन, हिन्दुस्तानी संगीत से सम्बन्धी व्याख्याओं, म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट्स के रिव्यु, और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी पाने के लिए follow बटन पर क्लिक करके  “www.sursaritatechknow.com” को  जरूर follow करें | 
और s u b s c r i b e करें मेरे youtube चैनल sur sarita techknow को |
धन्यवाद्
-पवन शास्त्री, सुर सरिता टेक

4 thoughts on “Raag Bilawal Parichay Bandish and Notation With Alap and Taan”

Leave a Comment